12th Ke Baad Kya Kare
Education

12th के बाद क्या करें? – मैथ्स, साइंस, कॉमर्स, आर्ट्स में से किसे चुने।

जैसे कि आप सभी जानते कि 10वीं कक्षा तक हम सभी को एक जैसे ही विषय पढ़ने होते है। 10वीं पास करने के बाद सभी को अपनी पसंद के अनुसार विषय चुनना पड़ता है, परन्तु कई विद्यार्थी इस कश्मकश रहते है कि आखिर वे अपनी 10वीं कक्षा के बाद कौन सा विषय चुने, ताकि उन्हें अपनी 12th कक्षा के बाद किसी भी विषय को पढ़ने में आसानी हो। 12th Ke Baad Kya Kare यह प्रश्न हर स्टूडेंट्स का होता है।

बारहवीं बाद सही विषय चुनना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है इसलिए आपको वही विषय चुनना चाहिए, जिसमे आपकी रूचि ज्यादा है। लेकिन बहुत से छात्र -छात्राओं को यह तय करने बहुत परेशानी होती है की 12 Ke Baad Kya Kare या 12 के बाद क्या करना चाहिए क्योंकि हर विद्यार्थी अपना उज्जवल भविष्य चाहता है, जिसके लिए सही विषय चुनना अतिआवश्यक है।

पिछले वक्त के मुकाबले वर्तमान में 12वीं के बाद विभिन्न कोर्सेज और विकल्पों की असीम लाइनें खुली हैं, जिनमें से छात्र अपनी पसंद और स्कोप के हिसाब से अपना विषय चुन सकते है। परन्तु किसी भी कोर्स को चुनते समय एक बात का जरूर ख्याल रखे वो ये कि आप जो कोर्स या लाइन चुन रहे है वो भविष्य के दृष्टिकोण से कितनी सफल है एवं उसमें जॉब मिलने या अच्छे भविष्य की कितनी संभावनाएं है।

12th Ke Baad Kya Kare

12th Ke Baad Kya Kare

यह 12वीं कक्षा के छात्रों के बीच सबसे आम प्रश्न है। प्रत्येक छात्र को यह पता होना चाहिए कि उनके पास चुनने के लिए कई विकल्प हैं।

यदि विद्यार्थी कम समय में 12वीं के बाद कोई कोर्स पूरा करना चाहते है तो वे डिप्लोमा कोर्स करना चुन सकते हैं और अपना करियर शुरू कर सकते हैं। यूजी पाठ्यक्रमों (UG Courses) में, छात्रों के पास चुनने के लिए Engineering, Medical, Design, Management और कई अन्य क्षेत्र है और इन क्षेत्रों में विभिन्न पाठ्यक्रम शामिल है जिनमें छात्र अपनी पसंद की लाइन चुन सकते है।

12th Math Ke Baad Kya Kare

12th मैथ्स (फिजिक्स, केमिस्ट्री, भौतिक) से करने बाद अधिकतर छात्र इंजीनियरिंग करना चुनते है। इंजीनियरिंग 12वीं के बाद सबसे अधिक किया जाने वाला कोर्स है, क्योंकि इसमें भविष्य के दृष्टिकोण से काफी अधिक स्कोप है। एक पेशेवर पाठ्यक्रम होने के कारण, यह लगभग हर उस उम्मीदवार को आकर्षित करता है जिसने PCM विषयों के साथ विज्ञान विषय लिया है। PCM से 12थ के बाद क्या करे आईये बताते है कुछ प्रमुख कोर्सेज के बारे में:

B.Tech

12वीं PCM से पास करने के बाद आप कंप्यूटर साइंस, मैकेनिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स और टेली-कम्युनिकेशन, इलेक्ट्रिकल, सिविल इंजिनीरिंग आदि में 4 वर्ष की बेचलर डिग्री करना चुन सकते है। पर यदि आप किसी शीर्ष कॉलेजों में प्रवेश पाना चाहते है तो इसके लिए आपको JEE Main और JEE Advanced एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना है। यदि आप यह परीक्षा पास कर लेते है तो आपको भारत के IIT (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी) में पढ़ने का सौभाग्य प्राप्त होगा।

BCA (Bachelor in Computer Application)

कंप्यूटर एप्लीकेशन में स्नातक (BCA) कंप्यूटर एप्लीकेशन्स में 3 वर्ष का एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसे 6 सेमेस्टर में विभाजित किया गया है। इसमें आपको डेटाबेस, नेटवर्किंग, डेटा स्ट्रक्चर, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे- C++ और Java इत्यादि विषय के बारे में पढ़ाया जाता है। वे छात्र जो IT (Information Technology) के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है वे यह विषय चुन सकते है।

12th Science Ke Baad Kya Kare

इंजीनियरिंग के बाद साइंस स्ट्रीम के छात्रों के लिए दूसरा सबसे पसंदीदा विकल्प मेडिकल या मेडिसिन है। यदि आपका सपना डॉक्टर बनने का है, तो वे स्टूडेंट्स अपनी 10वीं कक्षा के बाद 11वीं और 12वीं कक्षा PCM की जगह PCB (फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायो) विषय चुन सकते है। ऐसा जरूरी नहीं है कि PCM करने वाले स्टूडेंट्स डॉक्टर नहीं बन सकते है।

यदि आप मैथ्स की जगह बायोलॉजी विषय चुनते है तो आपको कॉलेज में साइंस विषय में ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी। 12th क्लास साइंस या बायो विषय से करने के पश्चात आप अपने करियर विकल्प के रूप में विभिन्न कोर्सेज चुन सकते है।

वे स्टूडेंट्स जो इस कन्फूशन में है कि 12th Bio Ke Baad Kya Kare (PCB) तो उनके लिए हमने 12th Ke Baad Course List दी है जिनमें से किसी भी एक को वे अपने करियर विकल्प के रूप में चुन सकते है:

  • MBBS
  • BDS (Bachelor of Dental Surgery)
  • B.Sc- Nursing
  • BPharma (Bachelor of Pharmacy)
  • BPT (Bachelor of Physiotherapy)
  • B.Sc. (Physics, Chemistry, Mathematics)

12th Commerce Ke Baad Kya Kare

कॉमर्स या वाणिज्य एक प्रोफेशनल कोर्स होता है। 11वीं और 12वीं कक्षा में कॉमर्स स्ट्रीम करने वाले छात्रों के लिए 12वीं के बाद चार्टर्ड अकाउंटेंसी सबसे लोकप्रिय कोर्स विकल्पों में से एक है। इसमें आपको सरकारी कानूनों, वित्तीय मामलों (Finance) , कर (Tax), लेखांकन (Accountancy), प्रबंधन (Management) इत्यादि के बारे में बारीकी से सिखने को मिलता है। चार्टर्ड अकाउंटेंसी के अलावा, कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए कई बेहतरीन प्रोफेशन कोर्सेज उपलब्ध है।

CA (Chartered Accountant)

यह 12th Commerce स्ट्रीम से करने के बाद किया जाने वाला सबसे लोकप्रिय एवं सर्वश्रेष्ठ कोर्स है। एक चार्टर्ड एकाउंटेंट (CA) एक प्रोफेशनल व्यक्ति होता है जो वित्तीय विश्लेषण और रिपोर्टिंग के विभिन्न पहलुओं जैसे- एकाउंटिंग, ऑडिटिंग, टैक्सेशन और संबंधित सलाहकार सेवाओं को संभालता है।

CA एक सम्मानजनक और चुनौतीपूर्ण करियर क्षेत्रों में से एक है। भारत में उच्च शिक्षा के लिए CA एक अच्छा विकल्प है। CA का कोर्स भारत में ICAI (इंडियन चार्टर्ड अकाउंटेंट्स इंस्टीट्यूट) द्वारा संचालित किया जाता है, इसमें तीन स्तर होते है CA Foundation, Intermediate और Final आदि।

BBA (Bachelor Of Business Administration)

वे विद्यार्थी जिनकी रूचि बिज़नेस करने की है वे अपने करियर विकल्प में रूप में BBA करना चुन सकते है जिसमें छात्रों को बिज़नेस, फाइनेंस, मैनेजमेंट, मार्केटिंग और एकाउंटिंग के बारे में सीखाया जाता है। बीबीए कोर्स एक 3 साल का अंडरग्रेजुएट बिज़नेस मैनेजमेंट पाठ्यक्रम है। BBA Admissions 2021 भारत में शीर्ष बीबीए कॉलेजों में प्रवेश परीक्षा के साथ-साथ योग्यता के आधार पर किया जाता है, हालाँकि कई कॉलेजेस बिना एंट्रेंस एग्जाम के भी कॉलेज में एडमीशन प्रदान करते है।

BBA के बाद MBA (Management of Business Administration) सबसे ज्यादा किया जाने वाला कोर्स है। MBA बीबीए के बाद की जाने वाली एक मास्टर डिग्री होती है जिसकी अवधि 2 वर्ष की होती है।

B.com (Bachelor of Commerce)

अगर आप बीकॉम को अपना करियर विकल्प के रूप में देख रहे है तो यह एक समझदारी भरा फैसला हो सकता है। यह 10+2 के बाद ट्रेंडिंग कोर्स में से एक है। भारत में B.com कोर्स की अवधि 3 वर्ष है। उम्मीदवार रेगुलर और प्राइवेट बी.कॉम कर सकते हैं। यह कोर्स आपको अकाउंटिंग, बैंकिंग, वित्तीय प्रबंधन, सूचना प्रणाली और प्रबंधन इत्यादि में करियर के लिए तैयार करता है।

12th Arts Ke Baad Kya Kare

कई लोगों को लगता है कि Arts एक छोटा स्ट्रीम होने के कारण इसमें स्कोप बहुत कम होता है जो कि उनकी गलत फेहमी है। हालाँकि सबकी अपनी-अपनी सोंच होती है। एक बार जब आप आर्ट्स स्ट्रीम में अपनी 12th कक्षा पूरी कर लेते है, तो छात्रों के सामने कई तरह की नौकरियां उपलब्ध होती हैं। आर्ट्स स्ट्रीम में कक्षा 12वीं पूरी करने के बाद छात्र Aviation, Law, Mass Communication, Teaching, Hospitality इत्यादि किसी में भी क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है।

यदि आप सरकारी नौकरी पाना चाहते है तो बेचलर इन आर्ट्स की डिग्री के दौरान अपनी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर सकते है। अधिकतर प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए एजुकेशन क्वालिफिकेशन ग्रेजुएशन डिग्री होती है। इसलिए यदि आप BA चुनते है तो इसकी अवधि 3 वर्ष की होती है, जिसके साथ ही आप अपनी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी जारी रख सकते है।

यहां 12वीं आर्ट्स स्ट्रीम से करने के बाद सबसे लोकप्रिय करियर विकल्प दिए गए हैं:

  • Fashion Designer
  • Interior Designer
  • Event Manager
  • Hotel Manager
  • Graphic Designer
  • Animator
  • Journalist
  • Filmmaker
  • Air Hostess
  • Photographer
  • Textile Designer
  • Teacher
  • Social Worker

Conclusion

अपनी 12th कक्षा पूरी करने के बाद आप ऊपर बताये गए किसी भी विषय में अपना करियर बना सकते है, परन्तु हम आपको यहीं सलाह देंगे कि जिस विषय में आपकी सबसे ज्यादा रूचि है वहीं सब्जेक्ट चुने एवं किसी के कहने में या बहकावे में न आये। यदि आप विषय को लेकर कश्मकश में है तो आप किसी विशेषज्ञ की सलाह ले सकते है, क्योंकि आपका पूरा भविष्य आपके एक निर्णय पर टिका होता है।

यदि आपकी रूचि सरकारी नौकरी करने की है तो आप हमारे इन आर्टिकल्स 12th Ke Baad Collector Kaise Bane, 12th Ke Baad IPS Kaise Bane, 12th के बाद IAS कैसे बने, 12वीं बाद SI (Sub Inspector) कैसे बने आदि की मदद ले सकते है।

DMCA.com Protection Status