Blood Pressure Kaise Check Kare? – ब्लड प्रेशर चेक करने का तरीका व उपाय!

आज अधिकतर लोगों में High Blood Pressure और Low Blood Pressure की समस्या देखी जाती है जिसका कारण है हमारी आज की बदलती जीवन शैली है जो काफी बदल गयी है। समय-समय पर ब्लड प्रेशर की जांच करवाना काफी ज़रुरी है। बहुत से लोग ब्लड प्रेशर की इस समस्या को नजर अंदाज़ कर देते है।

Blood Pressure का कम होना और बढ़ना दोनों ही खतरनाक होता है, जिससे आगे चलकर यह व्यक्ति के बहुत सी समस्याएं पैदा कर सकती है इसलिए समय रहते ब्लड प्रेशर का इलाज करवा लेना चाहिए। तो यदि आपको भी ब्लड प्रेशर कम होने या बढ़ने की समस्या है तो घबराये नहीं हम आपको Low Blood Pressure और High Blood Pressure Kaise Control Kare के बारे में बताएंगे।

Blood Pressure कम या ज्यादा होना स्वास्थ्य से जुड़ी एक गंभीर समस्या होती है। कुछ सालों में Blood Pressure से जुड़े मरीज़ो की संख्या में काफी वृद्धि हुई है जो की एक बहुत बड़े खतरे का संकेत है। इसलिए ब्लड प्रेशर को समय-समय पर मापते रहना चाहिए। ब्लड प्रेशर की समस्या अधिक वजन वाले और बुजुर्ग व्यक्तियों में बहुत आम हो चुकी है इसलिए आपको घर पर ही Blood Pressure Kaise Napa Jata Hai यह पता होना चाहिए।

तो आइये जानते है Blood Pressure Kaise Check Kare? अगर आपका भी ब्लड प्रेशर हाई या लो रहता है तो आज की यह पोस्ट आपके बहुत काम आएगी।

Blood Pressure Kya Hai

ह्रदय द्वारा रक्त वाहिनियों में रक्त का संचार होता है। शरीर के प्रत्येक अंग में रक्त का संचार हो सके इसलिए यह अधिक दबाव के साथ संपूर्ण शरीर में फैलता है जिसे ब्लड प्रेशर कहते है, लेकिन जब Blood Pressure Range सामान्य से ज्यादा हो जाती है तो उसे High Blood Pressure कहते है और सामान्य से जब ब्लड प्रेशर कम होता है तो उसे Lower Blood Pressure कहते है। अगर Blood Pressure Normal ना हो तो व्यक्ति को बहुत सी तरह की बीमारी हो सकती है।

Blood Pressure Napne Ke Tarike

यदि आपको ब्लड प्रेशर की समस्या है तो आप इसकी जाँच अपने घर पर ही कर सकते है। बस इसके लिए आपको बस ब्लड प्रेशर चेक करने वाले उपकरणों के बारे में पूरी जानकारी होना आवश्यक है। आगे हम आपको घर पर ही ब्लड प्रेशर की जाँच करने वाले 2 उपकरणों के बारे में बता रहे है।

  • Stethoscope – यदि आप डॉक्टर के पास गए हो तब आपने डॉक्टर के गले में लटके हुए एक चीज देखी होगी। इसे डॉक्टर एक तरफ अपने कान में लगाते है और दूसरी तरफ से Diaphragm से मरीज के सिने पर लगाकर उसकी धड़कन सुनते है।
  • Sphygmomanometer – इस उपकरण के द्वारा ब्लड प्रेशर की जाँच की जाती है। यह सामान्य और डिजिटल दो प्रकार का होता है। सामान्य के मुकाबले डिजिटल रक्तदाबमापी (Sphygmomanometer) में ब्लड प्रेशर कम या फिर ज्यादा बताता है। घर में उपयोग के लिए आप मरकरी स्फिग्मोमनोमीटर का इस्तेमाल कर सकते है।

Blood Pressure Kaise Check Kare

यदि आप घर पर ब्लड प्रेशर कैसे चेक करते है यह जानना चाहते है तो इसके लिए नीचे बताये गए आसान से चरणों का पालन करे;

  • ब्लड प्रेशर चेक करने से पहले, यह सुनिश्चित करें कि आप बिलकुल रिलेक्स हो। अपने हाथ को सीधा रखें, हथेली एक स्तरीय सतह पर, जैसे कि टेबल। Blood Pressure Check Karne Ke Liye सबसे पहले मरीज़ के बाएँ हाथ पर BP चेक करने वाला कफ़ बांधना होता है। कफ़ का नीचे का हिस्सा कोहनी से ऊपर ख़त्म होना चाहिए तथा कफ़ पर लगी दोनों नली मरीज़ के हाथ के अंदर की ओर होना आवश्यक है।
  • स्टेथोस्कोप के सिर (जिसे डायाफ्राम के रूप में भी जाना जाता है) को आपकी बांह के अंदर की त्वचा पर समतल रखा जाना चाहिए। डायाफ्राम के किनारे को कफ के नीचे होना चाहिए। स्टेथोस्कोप के कानों को धीरे से अपने कानों में डालें।
  • वाल्व को शुरू करने से पहले आपको पूरी तरह से इसे बंद करने की आवश्यकता है। होगा यह कि आपके पंप करते समय कोई हवा न निकले, जो एक गलत रीडिंग पैदा करेगा। वाल्व को दक्षिणावर्त घुमाएं, जब तक आपको यह महसूस न हो जाए। Blood Pressure Machine के वाल्व को घुमाये और टाइट करे।
  • तेजी से कफ को फुलाए जाने के लिए बल्ब को पंप करें। तब तक पंप करते रहें जब तक कि गेज पर सुई 180 मिमी एचजी तक न पहुंच जाए। कोहनी में पल्स की आवाज़ जिस प्रेशर पर स्टेथोस्कोप से सुनना बंद हो जाती है उससे 10 अंक ज्यादा तक प्रेशर को बढ़ाये।
  • वाल्व को अब ढीला करे और Blood Pressure Machine के प्रेशर को कम करे।
  • अब आपको ब्लड प्रेशर की मशीन में पारा जिस अंक पर पहली बार होगा वहां से स्टेथोस्कोप में पल्स की जो आवाज़ सुनाई देगी उसे कहीं पर नोट कर लेना है। इसे Systolic Blood Pressure कहते है।
  • अब धीरे-धीरे वाल्व को घुमाकर ढीला करे और जब पल्स की आवाज़ सुनाई देना बंद हो जाती है उस अंक को नोट कर लें, इसे Diastolic Blood Pressure कहा जाता है।
  • अब अंत में पूरा वाल्व खोल दीजिये और कफ़ को दबाकर पूरी हवा निकाल दें।

Mobile Se Blood Pressure Kaise Check Kare

आप अपने स्मार्टफोन से भी अपने ब्लड प्रेशर की जाँच कर सकते है। बस इसके लिए आपको एक एप्प को डाउनलोड करना होगा। आपको गूगल प्ले स्टोर पर बहुत सारे BP चेक करने वाले एप्लीकेशन मिल जायेंगे है तो किसी भी एप्लीकेशन का चुनाव करे। उसके बाद निचे बताये गए Mobile Se BP Kaise Check Kare के लिए फॉलो करे आसान सी स्टेप्स को।

  • Download & Install App – सबसे पहले आपको “Blood Pressure App” को डाउनलोड व Install करें।
  • Open App – अब ऐप को “Install” करने के बाद इसे “Open” करे।
  • Select Option – जैसे ही आप एप्प को ओपन करते है तब आपको आगे ऐप में बताये गए चरणों का पालन करना होगा।

बताये गए सभी चरणों का पालन करने के पश्चात आपके सामने आपका ब्लड प्रेशर दिख जाएगा। इस तरह से आप भी घर बैठे मोबाइल के द्वारा अपना ब्लड प्रेशर कैसे नापा जाता है के बारे में जान गए होंगे है। परन्तु ध्यान रहे मोबाइल पर बताये डाटा पर पूरा विश्वास न करते हुए एक प्रशिक्षित डॉक्टर से ज़रुर सलाह अवश्य ले।

Blood Pressure Kitna Hona Chahiye

हम सभी को यह जानकरी आवश्यक रूप से रखना ज़रुरी है की ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए। Blood Pressure 140/90 से ज्यादा होता है तो इसे High Blood Pressure या हाइपरटेंशन कहते है, जिसका अर्थ है की आपकी धमनियों में अधिक तनाव है। सामान्य रूप से Blood Pressure 120/80 तक होना चाहिए जो की सही होता है व यह इतना ही होना चाहिए। 139/89 के बीच के ब्लड का दबाव प्री- हाइपरटेंशन कहलाता है।

What Is Average Blood Pressure By Age?

BP का होना उम्र के अनुसार सही रहता है। Blood Pressure By Age कितना होना चाहिए इसके बारे में हम आपको आगे बता रहे है।

15 से 18 की उम्र19 से 24 की उम्र25 से 29 की उम्र30 से 35 की उम्र36 से 39 की उम्र40 से 45 की उम्र46 से 49 की उम्र50 से 55 की उम्र56 से 59 की उम्र60 की उम्र से ज्यादा
पुरुष – 177-77 mmHg
महिला – 120-85 mmHg
पुरुष – 120-79 mmHg
महिला – 120-79 mmHg
पुरुष – 120-80 mmHg
महिला – 120-80 mmHg
पुरुष – 122-81 mmHg
महिला – 123-82 mmHg
पुरुष – 123-82 mmHg
महिला – 124-83 mmHg
पुरुष – 124-83 mmHg
महिला – 125-83 mmHg
पुरुष – 126-84 mmHg
महिला – 127-84 mmHg
पुरुष – 128-85 mmHg
महिला – 129-85 mmHg
पुरुष – 131-37 mmHg
महिला – 130-86 mmHg
पुरुष – 135-88 mmHg
महिला – 134-84 mmHg

High Blood Pressure Symptoms

High Blood Pressure Ke Lakshan आपको निचे बताये गए है। इन लक्षणों से आप जान सकते है की आपको उच्च रक्त चाप है।

  • उच्च रक्त चाप होने पर नाक से खून बहने जैसी समस्या हो सकती है।
  • सांस लेने में परेशानी होना भी उच्च रक्तचाप के लक्षण में से एक होता है।
  • उच्च रक्तचाप में लगातार सिर में दर्द बना रहता है।
  • मूत्र में खून आना भी उच्च रक्तचाप के लक्षण होते है।

High Blood Pressure Causes

उच्च रक्तचाप किस वजह से होता है और आखिर क्या कारण है जिससे उच्च रक्तचाप की समस्या हो जाती है। तो जानते है High Blood Pressure Kaise Hota Hai

  • अधिक मात्रा में शराब का सेवन और धुम्रपान करना।
  • भोजन में नमक की मात्र ज्यादा होना।
  • यदि आपको गुर्दे से जुड़ा कोई पुराना रोग है तो यह भी हाई ब्लड प्रेशर के कारण में आता है।
  • मोटापा भी उच्च रक्तचाप होने का एक कारण है।

High Blood Pressure Me Kya Khana Chahiye

उच्च रक्तचाप में खाने पीने का बहुत ध्यान रखना चाहिए और अपने खाने पीने की आदतों में बदलाव करना चाहिए जिससे आप उच्च रक्तचाप की परेशानी से दूर हो सकते है। तो आइये जानते है High Blood Pressure Ki Desi Dawa के बारे में।

  • ब्लड प्रेशर के मरीज को अपने भोजन में फलो और सब्जियों काअधिक मात्रा में सेवन करना चाहिए। जिसमें आप साबुत अनाज, सोयाबीन, लहसुन, प्याज़ आदि को शामिल कर सकते है।
  • ब्लड प्रेशर के मरीज के लिए तरबूज बहुत ही फ़ायदेमंद माना जाता है। यह मरीज में एमिनो एसिड के स्तर को कम करता है। जिससे हाई ब्लड प्रेशर का स्तर सामान्य हो जाता है। इसमें पाए जाने वाला फाइबर और लाइकोपिन ह्रदय को भी स्वस्थ बनाता है।
  • हाई ब्लड प्रेशर होने पर चुकंदर का सेवन करना भी बहुत अच्छा माना जाता है। चुकंदर ब्लड प्रेशर के मरीज की रक्त वाहिकाओं को आराम पहुँचाता है व इससे शरीर में रक्त का प्रवाह बेहतर होता है। जिससे हाई ब्लड प्रेशर में राहत मिलती है।
  • माना जाता है कि यदि दिन में 3 बार मुट्ठी भर किशमिश खाई जाये तो इससे रक्तचाप में कमी होती है। किशमिश का उपयोग High Blood Pressure Remedies में से एक बेस्ट रेमेडी है।
  • दही भी हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू उपाय में से एक है। दही में प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन बी 6, विटामिन बी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो उच्च रक्त चाप को कम करता है।
  • ब्लड प्रेशर के मरीज को पानी, ताजा फलो व सब्जियों के जूस और नारियल पानी का अत्यधिक सेवन करना चाहिए।
  • Potassium Rich Foods उच्च रक्तचाप में काफी फायदा करते है। इसके लिए आप ऑरेंज जूस, केला, आलू, मशरूम आदि का सेवन कर सकते है।

High Blood Pressure Kam Kaise Kare

यदि आप उच्च रक्तचाप के मरीज़ है तो आपको यह पता होना चाहिए की High BP Me Kya Nahi Khana Chahiye जिसका ध्यान रख कर आप जान सकते है की High Blood Pressure Ko Kaise Control Kiya Jaye

  • आपको उच्च रक्तचाप है तो आपको ज़्यादा तैलीय भोजन का प्रयोग नहीं करना चाहिए तथा मसालेदार भोजन से दूरी बनाकर रखनी चाहिए।
  • उच्च रक्तचाप में अचार का सेवन भूलकर भी नहीं करना चाहिए। अचार बहुत ज़्यादा मात्रा में नमक को अपने अंदर सोखता है जो की सोडियम से भरपूर हो जाता है। हाई सोडियम हाई ब्लड प्रेशर में बहुत खतरनाक होता है। तो यदि आप उच्च रक्तचाप के मरीज़ है तो आपको अचार का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अगर आपको उच्च रक्तचाप है तो आपको कॉफी नहीं पीनी चाहिए। कॉफी हाईपरटेंशन को बहुत ही जल्दी बढ़ा देती है। इसलिए उच्च रक्तचाप में कॉफ़ी से दुरी बनाकर रखे।
  • एल्कोहल ब्लड प्रेशर को तेजी से बढ़ाने में मदद करता है। यह रक्त नलिकाओं को भी खराब कर देता है। इसलिए एल्कोहल का सेवन उच्च रक्तचाप होने पर बिलकुल ना करे।

Symptoms Of Low BP In Hindi

यदि आपको Low Blood Pressure Ke Lakshan अपने शरीर में दिखाई दे तो ऐसे में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से सलाह ले।

  • ब्लड प्रेशर के मरीज में पानी की कमी होने लगती है तथा बार-बार प्यास लगती है।
  • ब्लड प्रेशर का मरीज़ अवसाद में चला जाता है।
  • शरीर का ठंडा और पीला पड़ना भी Low Blood Pressure Symptoms में आता है।
  • ब्लड प्रेशर के मरीज की सांसे तेज होने लगती है और उथली सांसे (कभी जल्दी या कभी कम) व आधी अधूरी सांसे लेना।
  • धुँधला दिखाईदेना भी लो ब्लड प्रेशर का एक मुख्य लक्षण है।

Low Blood Pressure Kaise Hota Hai

जब शरीर में रक्त का प्रवाह सामान्य से कम होता है तो Low Blood Pressure की समस्या हो जाती है इसे ही कम रक्त दबाव कहते है। सामान्य ब्लड प्रेशर 120/80 होता है और ब्लड प्रेशर यदि 90 से कम हो जाता है तो उसे कम रक्त दबाव कहते है।

Low Blood Pressure Kaise Control Kare

कम रक्त दाब वाले व्यक्ति को कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ही महत्वपूर्ण है।जिनका उपयोग करके आप Low Blood Pressure को सामान्य कर सकते है। चलिए बताते है आपको Low Blood Pressure Se Kaise Bache;

  • Low Blood Pressure में स्ट्रांग कॉफी, हॉट चॉकलेट का सेवन करना लाभदायक होता है। ब्लड प्रेशर कम रहने पररोजाना एक कप काफी पीना फायदेमंद होता है हाँ एक बात का ध्यान अवश्य रखे इसके साथ कुछ ना कुछ जरूर खाये।
  • ब्लड प्रेशर लो होने परअधिक से अधिक पानी का सेवन करे तथा आप पानी में नींबू, चीनी और नमक मिलाकर भी पी सकते है।
  • ब्लड प्रेशर के घरेलू उपचार में नमक भी एक अच्छा तरीका है Low Blood Pressure को कम करने का। नमक का सेवन कम करते है तो उसकी थोड़ी सी मात्रा बढ़ा ले।
  • Lower Blood Pressure Naturally तरीके से सही करने के लिए तुलसी की पत्तियों का सेवन भी कर सकते है।
  • यदि आपको लो ब्लड प्रेशर है तो रात में 5 – 6 बादाम को भिगो दे और सुबह इसका पेस्ट बनाकर दूध के साथ सेवन करे।
  • Low Blood Pressure Diet में आप किशमिश का उपयोग कर सकते है। रात में किशमिश के कुछ दानों को पानी में भिगोकर सुबह इसका सेवन करना लो ब्लड प्रेशर में फायदेमंद माना जाता है।

Blood Pressure Kaise Kam Kare

यदि आप ब्लड प्रेशर को कम नहीं करते है तो आपको Blood Pressure Ke Nuksan उठाने पड़ सकते है। आइये जानते है की Blood Pressure Kaise Kam Hota Hai

  • यदि आपको उच्च रक्त चाप हो गया है तो आप BP Kam Karne Ka Yoga भी कर सकते है जैसे- बालासन, अनुलोम-विलोम प्राणायाम, सुखासन, सेतुबंधासन आदि ब्लड प्रेशर के लिए योग है, जिन्हें आप उच्च रक्त चाप होने पर कर सकते है।
  • High Blood Pressure Treatment भी आप करवा सकते है। डॉक्टर से ब्लड प्रेशर का इलाज करवाने के बाद ही ब्लड प्रेशर की दवा का सेवन करे।
  • रोज सुबह नंगे पैर 15 – 20 मिनट हरी घास पर चलना चाहिए यह Blood Pressure Normal Karne Ka Tarika है।

Conclusion –

दोस्तों अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना बहुत ज़रुरी है नहीं तो आपको कोई बड़ी बीमारी भी हो सकती है। आज की पोस्ट में आपको हमने बताया की Blood Pressure Kaise Check Kare इस तरीके से आप घर पर ही अपना ब्लड प्रेशर आसानी से चेक कर पाएँगे। Blood Pressure Ke Liye Yoga नियमित करे, खान-पान का ध्यान रखे और डॉक्टर के परामर्शानुसार ही Blood Pressure Ki Medicine का सेवन करे।

तो दोस्तों अगर आपको भी Low High Blood Pressure की प्रॉब्लम है तो यह पोस्ट आपकी बहुत मदद करेगी तथा अपने फ्रेंड्स को भी ब्लड प्रेशर के बारे में जानकारी दे। पोस्ट को Like करना ना भूले और सोशल मीडिया पर ज़रुर शेयर करे।

मैं 27 वर्ष का सुमित गोविन्द राव, इलाहबाद विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में Ph.D. हूँ और मैने एक वरिष्ठ कॉलेज प्रोफेसर के रूप में 4 वर्ष से भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली (IIT दिल्ली) में काम किया है। एक Ph.D. और प्रोफेसर होने के नाते, मैने दुनिया भर में शिक्षा, स्वास्थ, तकनीक और अन्य के बारे में लिखने के लिए हिंदी दुनिया वेबसाइट की शुरुआत की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here