Doctor Kaise Bane – MBBS डॉक्टर बनने के लिए प्रवेश प्रक्रिया।

4.6/5 - (9 votes)

हम सभी का अपने करियर को लेकर कोई ना कोई ड्रीम जरुर होता है, कोई IAS बनना चाहता है, तो कोई IPS , कोई इंजिनियर बनना चाहता है, तो कोई डॉक्टर। आज की यह पोस्ट उन छात्रों के लिए है, जो डॉक्टर बनना चाहते है और जानना चाहते है, कि Doctor Kaise Bane.

देखा जाए तो डॉक्टर बनना इतना आसान नहीं होता, क्योंकि इसके लिए आपको NEET (National Eligibility Entrance Test) प्रवेश परीक्षा पास करनी होती है और इसके बाद MBBS से ग्रेजुएशन पूरा करना होता है जिसके लिए उम्मीदवार के पास कुछ अनिवार्य योग्यताएं होना चाहिए।

आज इस लेख में आप डॉक्टर कैसे बने, MBBS Ke Liye Qualification, कोर्स डिटेल्स और एमबीबीएस से जुड़े अन्य महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में जानेंगे।

MBBS Doctor Kaise Bane

डॉक्टर बनने के लिए योग्यता

  • डॉक्टर बनने के लिए उम्मीदवार को अपनी 10th पास करने के बाद इंटरमीडिएट यानि 11वीं एवं 12वीं कक्षा में विज्ञान विषय का चुनाव करना होगा, जिसमें आपको फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषयों का अध्ययन करना होगा।
  • 12वीं कक्षा में उम्मीदवार के कम से कम 50% अंक होना आवश्यक है।
  • MBBS में प्रवेश के लिए आवेदक को NEET प्रवेश परीक्षा को क्वालीफाई करना होगा, तथा जिसके लिए न्यूनतम आयु 17 साल निर्धारित की गई है।

डॉक्टर बनने के लिए आपके पास क्या योग्यताएँ होंनी चाहिए ये आपने जाना अब आगे आप डॉक्टर कैसे बने (How to become a doctor in Hindi) या MBBS Doctor Kaise Bane के बारे में जानेंगे।

और पढ़े: Engineer Kaise Bane – सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर, मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल इंजीनियर!

Doctor Kaise Bane

डॉक्टर बनने के लिए आपको किन-किन प्रक्रियाओं से होकर गुजरना पड़ेगा, इसके बारे में मैंने आपको आगे बताया है:

  • इंटरमीडिएट (11वीं, 12वीं कक्षा) विज्ञान विषय से करें।

MBBS में प्रवेश के लिए आपको 10वीं कक्षा पास करने के बाद इंटरमीडिएट यानि 11वीं एवं 12वीं में विज्ञान विषय का चयन करना करना होगा, जिसमें आपको १२वीं कक्षा कम से कम 50% अंकों के साथ पास करनी होगी।

  • एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा (NEET) क्लियर करें।

भारत में अधिकांश मेडिकल कॉलेज में प्रवेश पाने के लिए आपको राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा यानि NEET एंट्रेंस एग्जाम के लिए आवेदन करना होगा। NEET परीक्षा का स्तर बहुत कठिन होता है, हजारों-लाखों की संख्या में छात्र-छात्राएँ इस परीक्षा को देते है, जिनमें से केवल कुछ ही नीट प्रवेश परीक्षा को पास कर पाते है।

AIIMS, JIPMER, कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज और ऐसे अन्य कई मेडिकल कॉलेज एमबीबीएस पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए अपनी अलग प्रवेश परीक्षा आयोजित करवाते है।

  • MBBS कोर्स पूरा करें।

जब आप NEET मेडिकल एग्जाम क्लियर कर लेते है, तो परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर आपको मेडिकल कॉलेज में प्रवेश मिल जाता है, आप काउंसलिंग में जितनी अच्छी रैंक प्राप्त करते है, आपको एमबीबीएस कोर्स में प्रवेश के लिए उतना बेहतर मेडिकल कॉलेज मिलता है। एमबीबीएस कोर्स की अवधि 4.5 ईयर की होती है।

  • 1 साल की इंटर्नशिप पूरी करें।

4।5 वर्ष का एमबीबीएस कोर्स पूरा हो जाने के बाद आपको 1 वर्ष की इंटर्नशिप करना जरुरी है। इंटर्नशिप के दौरान आप वरिष्ठ डॉक्टरों की उपस्तिथि और देख-रेख में रोगियों का उपचार करते है। Internship पूरी हो जाने के बाद आपको MCI यानि मेडिकल काउंसलिंग ऑफ इंडिया के द्वारा डॉक्टर की डिग्री प्राप्त हो जाती है।

  • इंडियन मेडिकल रजिस्टर में खुद को पंजीकृत करें।

मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा एमबीबीएस की डिग्री और इंटर्नशिप प्राप्त कर लेने के बाद आपको भारतीय चिकित्सा रजिस्टर में खुद को रजिस्टर यानि पंजीकृत करना होगा, इसके बाद ही आप भारत में एक डॉक्टर के रूप में अपना करियर शुरू कर सकते है।

  • डॉक्टर के रूप में प्रैक्टिस करना शुरू करें।

MBBS डिग्री और इंटर्नशिप ट्रेनिंग पूरी कर लेने के बाद अपने कार्यक्षेत्र में विशेषज्ञता और कार्यानुभव प्राप्त करने के लिए आप किसी भी सरकारी अथवा प्राइवेट अस्पताल में चिकित्सक के रूप में कार्य कर सकते है और चाहें तो एक जनरल फिजिशियन के रूप में अपना खुद का क्लिनिक खोलकर मरीजों का उपचार कर सकते है।

और पढ़े: IIT Kya Hai? Kaise kare? – IIT Full Form in Hindi

Doctor Banne Ke Liye Subject

डॉक्टर बनने के लिए आपको 10वीं पास करने के बाद 11वीं एवं 12वीं कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय लेकर पढना होगा। ध्यान रखें कि डॉक्टर बनने के लिए आयोजित की जाने वाली NEET प्रवेश परीक्षा में इन्हीं तीनों विषयों से प्रश्न पूछे जाते है। इसलिए आपको 11th और 12th में भौतिकी, रसायन एवं जीव विज्ञान इन तीनों विषयों को बहुत ही ध्यान से पढना है।

Doctor Banane Ka Course

Doctor बनने के लिए मेडिकल कॉलेजों में बहुत से कोर्सेस कराए जाते है, यह आपके NEET एग्जाम में प्राप्त अंकों और आपकी रूचि पर निर्भर करता है की आप कौन सा कोर्स करना चाहते है। आगे मैंने आपको कुछ महत्वपूर्ण मेडिकल कोर्सेस के नाम बताए हैं:

  • MBBS – Bachelor of Medicine & Bachelor of Surgery
  • BAMS – Bachelor of Ayurvedic Medicine & Surgery
  • BHMS – Bachelor of Homeopathic Medicine & Surgery
  • BPT – Bachelor of Physiotherapy
  • BDS – Bachelor of Dental Surgery
  • BUMS – Bachelor of Unani Medicine & Surgery
  • B.Sc Nursing – Bachelor of Science in Nursing
  • B.Pharm – Bachelor of Pharmacy
  • Pharm D – Doctor of Pharmacy (जाने: Phd कैसे करें?)

MBBS डिग्री प्राप्त करने के बाद जॉब प्रोफाइल्स

जब आप एमबीबीएस कोर्स करके अपना ग्रेजुएशन पूरा कर लेते है, तो इसके बाद आप MD (Doctorate of Medicine) एवं MS (Master of Surgery) से पोस्ट ग्रेजुएशन करके मास्टर डिग्री प्राप्त कर सकते है। इसके अलावा अगर आप MBBS करने के बाद डॉक्टर के रूप में नौकरी करना चाहते है, तो आगे मैंने आपको डॉक्टर्स की कुछ विशेष जॉब प्रोफाइल्स के बारे में बताया है:

  • जनरल फिजिशियन
  • गायनोकोलॉजिस्ट
  • डर्मेटोजिलॉजिस्ट
  • कार्डियोलॉजिस्ट
  • न्यूरोलॉजिस्ट
  • डेंटिस्ट
  • सर्जन

और पढ़े: Pilot Kaise Bane – पायलट बनने से जुड़ी पूरी जानकारी।

भारत में डॉक्टर की सैलरी

एक एमबीबीएस डॉक्टर की सैलरी शुरूआती दौर में लगभग 5 लाख रूपए सालाना होती है, इसके अलावा योग्यता और विशेषज्ञता के आधार पर एक अनुभवी डॉक्टर की सैलरी औसतन 1 करोड़ तक जा सकती है। आगे मैंने आपको एक टेबल के माध्यम से डॉक्टर की सैलरी उनकी विशेषज्ञता के आधार पर बताई है:

जनरल फिजिशियन ₹ 7.10 लाख
ईएनटी स्पेशलिस्ट ₹ 9.60 लाख
ओन्कोलॉजिस्ट्स ₹ 9.45 लाख
गायनेकोलॉजिस्ट ₹ 10.80 लाख
न्यूरोलॉजिस्ट्स ₹ 11.64 लाख
कार्डियोलॉजिस्ट्स ₹ 14.70 लाख

सारांश

उम्मीद है, कि आज इस लेख में आपको MBBS Kaise Bane अथवा डॉक्टर कैसे बने से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी जैसे डॉक्टर बनने के लिए योग्यता, सब्जेक्ट, कोर्स, जॉब प्रोफाइल और डॉक्टर को मिलने वाली सैलरी आदि ये सभी जानकारी प्राप्त हो गई होगी। अगर आप भी डॉक्टर बनना चाहते है, तो आज का यह लेख आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होगा, साथ ही आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते है। धन्यवाद!

     

मैं 27 वर्ष का सुमित गोविन्द राव, इलाहबाद विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में Ph.D. हूँ और मैने एक वरिष्ठ कॉलेज प्रोफेसर के रूप में 4 वर्ष से भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली (IIT दिल्ली) में काम किया है। एक Ph.D. और प्रोफेसर होने के नाते, मैने दुनिया भर में शिक्षा, स्वास्थ, तकनीक और अन्य के बारे में लिखने के लिए हिंदी दुनिया वेबसाइट की शुरुआत की। Contact: [email protected]

Leave a Comment

error: Content is protected !!