IAS Kaise Bane
Education

IAS Kaise Bane – आईएएस कैसे बने की पूरी जानकारी।

5/5 - (2 votes)

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) को सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी माना जाता है। IAS की पोस्ट बहुत ही प्रतिष्ठित पोस्ट होती है जिसे हर कोई पाना चाहता है। लेकिन इसे पाना इतना आसान नहीं क्योंकि यह भारत की सबसे कठिन परीक्षा UPSC को क्वालीफाई करने के बाद ही प्राप्त होती है। तो यदि आप IAS की नौकरी पाना चाहते है और 12वीं के बाद से ही IAS Exam की तैयारी करना चाहते है तो जानिए IAS Kaise Bane की पूरी जानकारी।

बहुत से स्टूडेंट्स IAS बनने का सपना तो देख लेते है लेकिन जानकारी के आभाव में वे उसमें सफलता प्राप्त नहीं कर पाते इसलिए उन लोगों के लिए आज हम हमारी इस पोस्ट में आईएएस क्या है आईएएस के कार्य, IAS Banne Ke Liye Qualification, आयुसीमा, और सिलेबस आदि पूरी जानकारी के बारे में बताएंगे।

IAS Kaise Bane

IAS Officer या अन्य पदों को प्राप्त करने के लिए UPSC द्वारा सिविल सर्विस एग्जाम का आयोजन किया जाता है। IAS की तैयारी करने के लिए एक साल पर्याप्त माना जाता है, लेकिन यह विद्यार्थियों की कार्यक्षमता तथा सोच पर निर्भर करता है।

क्योंकि किसी विद्यार्थी के लिए 6 महीने ही काफी होते है तो किसी के लिए 3 वर्ष भी नहीं। कभी भी ऐसा न समझे की आप ओरो के मुकाबले कमज़ोर है वरना आपको कभी भी सफलता नहीं मिल पायेगी इसलिए निराश होने की बजाय जहां आप असफल हो रहे है उन्हें ढूंढकर हल करे।

IAS Kaise Bane

आईएएस बनने के लिए आपको UPSC द्वारा आयोजित सिविल सर्विस एग्जाम के लिए आवेदन करना होगा, जिसके लिए न्यूनतम योग्यता किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन डिग्री है। आईएएस एग्जाम को हर साल All India Level पर आयोजित किया जाता है, जिसमें तीन चरणों प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination), मुख्य परीक्षा (Main Examination) और साक्षात्कार (Interview) को क्लियर करना होता है। इसके अलावा आप UPSC की वेबसाइट upsc.gov.in से आईएएस ऑनलाइन आवेदन पत्र, परीक्षा तिथि, परिणाम, प्रवेश पत्र आदि के बारे में भी पता कर सकते है।

1. 12वीं क्लास किसी भी विषय से उत्तीर्ण करें।
2. फिर किसी भी स्ट्रीम से अपनी बैचलर डिग्री पूरी करें।
3. अब UPSC एग्जाम के लिए आवेदन करें।
4. UPSC की प्रीलिमिनरी एग्जाम को क्लियर करें।
5. अब UPSC मेन्स एग्जाम को क्लियर करें।
6. अब आपको Interview पास करना होगा।
7. अंत में LBSNAA से IAS की ट्रेनिंग पूरी करें।

IAS अधिकारी कौन होता हैं?

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) All India Services की प्रशासनिक शाखा है। IAS, IPS तथा IFS तीनों सेवाओं के सदस्य भारत सरकार के साथ-साथ अलग-अलग राज्यों में भी कार्य करते हैं। सार्वजनिक क्षेत्र के विभिन्न उपक्रमों में IAS अधिकारियों को भी तैनात किया जा सकता है।

IAS परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। UPSC द्वारा Civil Service Exam जैसे- IAS, IPS, IFS, NDA, CDS जैसी लगभग 24 पदों में सदस्यों की भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन करती है।

जो उम्मीदवार CSE (सिविल सर्विस एग्जाम) में सबसे Top रैंक हासिल करते है उन उम्मीदवार को आईएएस अधिकारी के पद के लिए नियुक्त किया जाता है। आईये अब आपको आईएएस फुल फॉर्म के बारे में बताते है।

IAS का फुल फॉर्म क्या है?

IAS Ka Full Form “Indian Administrative Service” जिसे हिंदी में “भारतीय प्रशासनिक सेवा” कहा जाता है IAS परीक्षा अखिल भारतीय सेवाओं के लिए योग्य उम्मीदवारों की भर्ती के लिए संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Services Commission) द्वारा आयोजित एक परीक्षा है जिसमें IAS, IPS, IRS, IFS और कई अन्य ग्रुप A और ग्रुप B सेवाएं शामिल हैं।

IAS Ke Liye Qualification

परन्तु आईएएस परीक्षा की तैयारी से पहले IAS Eligibility तथा IAS Ki Tayari Ke Liye Qualification के बारे में अवश्य जान ले।

शैक्षणिक योग्यता

IAS की परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदक का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से Graduation होना अनिवार्य है। यदि आप फाइनल ईयर में है और परिणाम का इंतज़ार कर रहे तब भी आप इस परीक्षा में भाग ले सकते है।

ध्यान रहे मुख्य परीक्षा (Main Exam) में शामिल होने से पहले आपको आवेदन पत्र (Application Form) के साथ न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता की ग्रेजुएशन डिग्री दिखाना होगी।

आयुसीमा

IAS Ki Age Limit कम से कम 21 वर्ष है जबकि अधिकतम आयु सीमा हर वर्ग (Category) के अनुसार अलग-अलग निर्धारित की गयी है। इसके अलावा कुछ आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को इसमें छूट भी दी जाती है।

  • सामान्य श्रेणी (General Category) – 32 वर्ष
  • OBC – 35 वर्ष (3 वर्ष की छूट)
  • एससी / एसटी (SC/ST) – 37 वर्ष (5 वर्ष की छूट)
  • ईडब्ल्यूएस (EWS) – 32 वर्ष (कोई छूट नहीं)
  • विकलांग – 42 वर्ष (10 वर्ष की छूट)

IAS Banne Ke Liye Subject

आईएएस बनने के लिए आप को कोई भी विशेष Subject लेने की ज़रूरत नहीं है किसी भी सब्जेक्ट से 12th पास करने वाला व्यक्ति आईएएस बन सकता है। किन्तु इसके साथ ही आपका स्नातक होना आवश्यक है। तो इस प्रकार IAS Ki Taiyari Ke Liye Subject इतना मायने नहीं रखता है, जितनी आपकी मेहनत। अगर आप यह भी जानना चाहते है की. IAS Ke Liye Konsi Degree Chahiye तो हम आपको बता दे आपकी किसी विषय में स्नातक करके आप आईएएस एग्जाम में बैठ सकते है।

आईएएस मेन्स वैकल्पिक विषय-

कृषि, पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान, नृविज्ञान वनस्पति विज्ञान, रसायन विज्ञान, सिविल इंजीनियरिंग, वाणिज्य और लेखा, अर्थशास्त्र, इलेक्ट्रिकल, इंजीनियरिंग, भूगोल, भूविज्ञान, इतिहास, कानून प्रबंधन, गणित, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, चिकित्सा विज्ञान, दर्शनशास्त्र, भौतिकी, राजनीति विज्ञान और अंतर्राष्ट्रीय संबंध, मनोविज्ञान, लोक प्रशासन, समाजशास्त्र, सांख्यिकी, जूलॉजी निम्नलिखित भाषाओं में से किसी एक का साहित्य।

IAS बनने के लिए सिलेक्शन प्रोसेस

यदि उम्मीदवार के पास ऊपर बताई गयी योग्यताएं है तो वह IAS परीक्षा में भाग ले सकते है लेकिन इसमें उम्मीदवारों का चयन परीक्षा में प्राप्त अंकों में अनुसार ही होता है।

यह परीक्षा 3 चरणों में होती है तथा जो उम्मीदवार इन दोनों परीक्षा में उत्तीर्ण होते है उन्हें उनकी रैंक के अनुसार IAS या अन्य अधिकारी पद के लिए चुना जाता है।

  • प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination)
  • मुख्य परीक्षा (Main Examination)
  • साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

Prelims Exam IAS बनने के लिए प्रथम चरण होता है जिसे क्लियर करने के बाद उम्मीदवार दूसरे चरण यानि मुख्य परीक्षा में शामिल हो सकते है।

UPSC की नई परीक्षा प्रणाली के अनुसार वर्तमान में प्रारंभिक परीक्षा में दो प्रश्नपत्र जनरल एबिलिटी और सिविल सर्विस एप्टीटुड से सम्बंधित ऑबजेक्टिव टाइप के प्रश्न पूछे जाते है। जो की क्वालीफाइंग पेपर यानि अगले चरण में जाने के लिए होता है। दोनों प्रश्नपत्र 200-200 अंको के होते है।

पेपर -1 के लिए IAS Syllabus:

पेपर-1 2 घंटे का होता है जिसमें 200 अंकों के ऑब्जेक्टिव टाइप के प्रश्न शामिल होते है। चलिए अब आगे जानते है कि IAS Ke Liye Subject और आईएएस सिलेबस क्या होता है।

  • करंट अफेयर्स (CURRENT AFFAIRS) – राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाये
  • सामान्य विज्ञान (GENERAL SCIENCE)
  • भारत का इतिहास (HISTORY OF INDIA)
  • पर्यावरण (ENVIRONMENT) – जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता, पर्यावरण पारिस्थिकी
  • भारतीय राजनीति और शासन (INDIAN POLITY & GOVERNANCE) – संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज आदि।
  • विश्व तथा भारत का भूगोल (GEOGRAPHY) – अधिकारों के मुद्दे , भारत और दुनिया के आर्थिक व भौतिक भूगोल
  • सामाजिक विकास और आर्थिक (SOCIAL DEVELOPMENT & ECONOMIC)

पेपर -2 के लिए IAS Syllabus:

पेपर -2 भी 2 घंटे का होता है जिसमें भी 200 अंकों के ऑब्जेक्टिव टाइप के प्रश्न पूछे जाते है परन्तु इसमें पूछे जाने वाले प्रश्न सांख्यिकी और तार्किक से संबंधित होते है। जैसे-

  • समस्या को हल करना और निर्णय लेना (PROBLEM SOLVING OR DECISION MAKING)
  • सामान्य मानसिक योग्यता (GENERAL MENTAL ABILITY)
  • समझ (COMPREHENSION)
  • डेटा व्याख्या (DATA INTERPRETATION)
  • विश्लेषणात्मक क्षमता और तार्किक तर्क (ANALYTICAL & LOGICAL REASONING)
  • संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल (INTERPERSONAL SKILLS INCLUDING COMMUNICATION SKILLS)

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवार सिविल सेवा परीक्षा के इस दूसरे चरण यानि मुख्य परीक्षा में शामिल होते है। इसके लिए उम्मीदवारो को मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए लगभग 2 से 3 महीने का समय दिया जाता है।

प्रिलिमिनरी एग्जाम के ठीक विपरीत इसमें अलग-अलग शब्द सीमा वाले वर्णात्मक (Descriptive) प्रश्न पूछे जाते है जिसमें प्रश्नों का उत्तर अपने शब्दों में देना होता है। अच्छी लेखन शैली वाले उम्मीदवार ही इसमें सफलता प्राप्त करते है।

मुख्य परीक्षा के प्रश्नपत्र:

प्रश्नपत्र 1 – निबंध

प्रश्नपत्र 2 – सामान्य अध्ययन 1 (संस्कृति और भारतीय विरासत, विश्व का इतिहास और भूगोल)

प्रश्नपत्र 3 – सामान्य अध्ययन 2 (संविधान,प्रशासन, राजनीति, सामाजिक न्याय तथा अन्तर्राष्ट्रीय संबंध)

प्रश्नपत्र 4 – सामान्य अध्ययन 3 (आर्थिक विकास,जैव विविधता, पर्यावरण, प्रौद्योगिकी,आपदा प्रबंधन)

प्रश्नपत्र 5 – सामान्य अध्ययन 4 (अभिवृत्ति, सत्यनिष्ठा)

प्रश्नपत्र 6 – वैकल्पिक विषय – पेपर 1

प्रश्नपत्र 7 – वैकल्पिक विषय – पेपर 2

साक्षात्कार (Interview)

वे उम्मीदवार जो प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा में सफलता प्राप्त करते है उन्हें IAS के अंतिम चरण यानि साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है। यह UPSC की IAS परीक्षा की भर्ती प्रक्रिया का अंतिम चरण होता है जिसमें सफल होने पर उम्मीदवार की IAS बनने का सपना सुनिश्चित हो जाता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि IAS साक्षात्कार प्रक्रिया का कोई पैटर्न नही होता है इसमें किसी भी विषय से सम्बन्धित प्रश्न पूछे जा सकते है। आईएएस इंटरव्यू में पूछे जाने वाले सवाल थोड़े अलग टाइप व लेवल के हो सकते है।

IAS Ke Karya

एक IAS के कार्य और जिम्मेदारियाँ उसके करियर के विभिन्न बिंदुओं पर बदल जाती है। अपने करियर की सभी शुरुआत आईएएस अधिकारी Sub-divisional स्तर पर राज्य प्रशासन में शामिल होते है, और उप-विभागीय (sub-divisional) मजिस्ट्रेट के रूप में कार्य करते है, और कानून और व्यवस्था, सामान्य प्रशासन और उनके प्रभार वाले क्षेत्र में विकास कार्यों की देखभाल करते हैं।

आईएएस की तैयारी कैसे करें

1. UPSC एग्जाम पैटर्न और सिलेबस को अच्छे से एनालाइज करें।
2. अपने बेसिक लेवल को मजबूत बनाएँ, जिसके लिए आप NCERT की बुक्स सकते है।
3. अच्छे लेखक की स्टैण्डर्ड बुक्स पढ़ें।
3. 12 से 18 महीने के करंट अफेयर्स को तैयार करें।
4. पिछले वर्ष के पुराने प्रश्न पत्रों को हल करें।
5. मॉक टेस्ट लगाएं और आंसर लिखने की प्रैक्टिस करें।
6. पढ़े गए विषयों को रिवीजन करें।

IAS परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करे

अभ्यर्थी ऑनलाइन मोड में IAS Exam 2022 के आवेदन पत्र UPSC की ऑफिसियल वेबसाइट upsc.gov.in पर भर सकेंगे। एक बार आवेदन पत्र भरने के बाद, उम्मीदवारों को ऑनलाइन या ऑफलाइन मोड में सिविल सेवा परीक्षा आवेदन शुल्क (IAS Ki Fees) का भुगतान करने की आवश्यकता है।

CategoryPreliminary Exam FeeMains Exam Fee
General/ EWS/OBCRs 100Rs 200
SC/ ST/ Disabled PersonNilNil

IAS परीक्षा की मुख्य तिथि 2022

उम्मीदवार नीचे दिए गए आने वाली महत्वपूर्ण UPSC IAS exam dates 2022 की सूचि देख सकते हैं:

परीक्षा कार्यक्रममहत्वपूर्ण तिथि
IAS Exam 2022 के नोटिफिकेशन02 फरवरी
IAS Exam 2022 के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि22 फरवरी (6 बजे तक)
IAS प्रारंभिक परीक्षा 20225 जून
IAS प्रारंभिक परीक्षा 2022 रिजल्टकोई सुचना नहीं
IAS मुख्य परीक्षा 2022कोई सुचना नहीं

आईएएस अधिकारी के पद

  • SDO/ SDM/ CDO( संयुक्त कलेक्टर)
  • डिप्टी कमिश्नर/ जिला मजिस्ट्रेट (DM)/ जिला कलेक्टर
  • राजस्व बोर्ड के अध्यक्ष
  • विभागीय आयुक्त
  • बोर्ड ऑफ रेवेन्यू के सदस्य

Conclusion

तो दोस्तों यह थी आईएएस परीक्षा से सम्बन्धित कुछ महत्वपूर्ण बातें जिसमें हमने आपको आईएएस क्या होता से लेकर आईएएस कैसे बना जाता है के बारे में बताया, उम्मीद करते है आपको यह जानकारी पसंद आयी होगी।

अब बस आपको सही रणनीति से IAS की तैयारी करना है हमें उम्मीद है की आप उसमें जरूर सफलता प्राप्त करेंगे। IAS की तैयारी से जुडी यह जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे ताकि वे भी IAS से जुड़े पूरी जानकारी प्राप्त कर सके, धन्यवाद!

आईएएस (IAS) बनने से जुड़े FAQs

  • IAS के लिए कौन सी परीक्षा योग्य है?

आईएएस अधिकारी बनने के लिए उम्मीदवार को UPSC CSE एग्जाम को क्लियर करना होगा।

  • क्या 20 वर्ष के उम्मीदवार IAS की परीक्षा दे सकता है?

नहीं, उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और 32 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

  • IAS के लिए कितने Attempts होते है?

हर वर्ग के हिसाब से अधिकतम प्रयासों की संख्या अलग-अलग निर्धारित की गयी है। सामान्य वर्ग के लिए अधिकतम प्रयासों की संख्या 6, OBC के लिए 9, एवं SC/ST वर्ग के उम्मीदवार आयु सीमा पूरी होने तक उपस्थित हो सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status