Indian Air Force Kaise Join Kare? – भारतीय वायुसेना में जाने लिए के योग्यता, परीक्षा व सिलेबस 2020!

Indian Air Force Kaise Join Kare

भारतीय सेना को तीन कमांड्स में बाँटा गया है- थलसेना (Army), जलसेना (Navy) और वायुसेना (Airforce)। भारतीय वायुसेना (इंडियन एयरफोर्स) भारतीय सशस्त्र सेना का एक अंग है जो देश की रक्षा में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यह देश की रक्षा के लिए वायु युद्ध, वायु सुरक्षा, एवं वायु चौकसी आदि महत्वपूर्ण काम करती है। भारतीय वायुसेना की स्थापना 8 अक्टूबर 1932 को “रॉयल इंडियन एयरफोर्स” के नाम से की गयी थी परन्तु आजादी के बाद इसमें से रॉयल शब्द को हटाकर इसे “इंडियन एयरफोर्स” कर दिया गया।

वर्तमान में Bhartiya Vayu Sena Ke Adhyaksh “एयर चीफ़ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया” है, जिन्होंने 30 सितम्बर 2019 को अपना पदभार संभाला है। भारतीय वायु सेना दिवस प्रत्येक वर्ष “8 अक्टूबर” को मनाया जाता है। जिन भी अभ्यार्थियों का सपना खुले आसमान में उड़न भरने का है वे Bhartiya Vayu Sena Bharti में शामिल होकर देश की रक्षा करने जिम्मा अपने ऊपर ले सकते है व इस क्षेत्र को अपने करियर विकल्प के रूप में चुन सकते है। चाहे आप ग्रेजुएट्स हो या आपने अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की है या आपने 10वीं कक्षा उत्तीर्ण की है, भारतीय वायु सेना के पास आपके लिए एक रोमांचक कैरियर का अवसर है।

आप अपने और अपने परिवार के लिए सुरक्षित भविष्य की शुरुआत करने के लिए भारतीय वायु सेना में शामिल हो सकते हैं। हालांकि IAF (इंडियन एयर फोर्स) ग्रेजुएट्स के लिए संभावनाओं पर ही केंद्रित है। भारतीय वायु सेना के पास उपलब्ध विभिन्न कैरियर के अवसरों में तकनीकी और गैर तकनीकी दोनों शाखाएँ शामिल हैं। भारतीय वायु सेना में एक अधिकारी के रूप में आप रणनीतिक, नेतृत्व और प्रबंधन इत्यादि कार्य करते हैं। एयरफोर्स की परीक्षा में सफल अभ्यार्थियों को विविध क्षेत्रों और वातावरण में प्रशिक्षण दिया जाता है ताकि वे सभी चुनौतियों के लिए तैयार हो। इस जॉब में आपका उद्देश्य मिशन में हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ देना होता है।

चलिए अब आगे जानते है कि Indian Air Force Kaise Join Kare व इसके लिए क्या-क्या योग्यताएँ होनी चाहिए।

जरूर पढ़े: MP Police Constable Kaise Bane – एमपी पुलिस कांस्टेबल परीक्षा सिलेबस, परीक्षा पैटर्न 2020!

Bhartiya Vayu Sena Me Kaise Jaye

IAF में एक अधिकारी के रूप में शामिल होने के लिए आपकी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर इसमें कई सारे अवसर उपलब्ध है जिनके बारे में आपको आगे बताया गया है:

10वीं कक्षा के बाद

जिन विद्यार्थियों का सपना बचपन से ही वायुसेना में अपना करियर बनाने का है उनके लिए नेशनल डिफेंस एकेडमी (NDA) और नेवल एकेडमी (NA) परीक्षा के लिए भारतीय वायु सेना में एक अधिकारी के रूप में शामिल होने के लिए भौतिकी और गणित के साथ 10 + 2 (विज्ञान) की योग्यता रखने वाले युवा लड़कों के लिए यह एक सुनहरा अवसर है। NDA की परीक्षा को UPSC (यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन) द्वारा पूरे भारत में प्रत्येक वर्ष में दो बार आयोजित किया जाता है।

प्रारंभिक चयन प्रक्रिया में शॉर्ट-लिस्टेड किये गए अभ्यार्थियों को NDA, खडकवासला में 3 साल की कठिन ट्रेनिंग देना होती है। ट्रेनिंग पूरी कर लेने के बाद अभ्यार्थियों को अधिकारियों के रूप में कमीशन किया जाएगा और वायु सेना स्टेशनों में से किसी पर भी पायलट के रूप में तैनात किया जाएगा।

स्नातक स्तर की पढ़ाई के बाद

पुरुष और महिलाएं दोनों में से, जिन्होंने भी अपना ग्रेजुएशन (स्नातक) पूरा कर रखा हैं, उनके पास UPSC द्वारा आयोजित CDSE और NCC विशेष प्रवेश परीक्षा के माध्यम से अधिकारियों के रूप में वायु सेना में प्रवेश करने का एक और मौका होता हैं।

CDSE परीक्षा – UPSC द्वारा CDSE परीक्षा का आयोजन प्रत्येक वर्ष में 2 बार फ्लाइंग ब्रांच में ट्रेनी पायलटों की भर्ती के लिए किया जाता है। इसमें केवल वे अभ्यार्थी ही शामिल हो सकते है जिन्होंने अपना ग्रेजुएशन पूरा कर लिया हो। परीक्षा में शार्ट-लिस्ट किये गए उम्मीदवारों को प्रशिक्षण के लिए विशेष ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है।

NCC विशेष प्रवेश परीक्षा – एनसीसी स्पेशल एंट्री के माध्यम से इंडियन एयरफोर्स भर्ती 2020 की फ्लाइंग शाखा में केवल NCC (राष्ट्रीय कैडेट कोर) के एयर विंग सीनियर डिवीजन ‘सी’ सर्टिफिकेट रखने वाले अभ्यर्थी ही इसमें आवेदन करने के पात्र होंगे।

इंजीनियरिंग के बाद

जिन अभ्यार्थियों ने इंजीनियरिंग में अपना ग्रेजुएशन कर लिया है ऐसे उत्साही और प्रतिबद्ध इंजीनियरों को भारतीय वायु सेना टीम का हिस्सा बनने के लिए बुलाती है। एक इंजीनियर के रूप में आपको भारतीय वायु सेना में एक जिम्मेदार और चुनौतीपूर्ण कार्य करने होंगे। IAF की टेक्निकल ब्रांच में शामिल होने के लिए UPSC के द्वारा UES तथा AFCAT परीक्षा का आयोजन किया जाता है। इच्छुक छात्र ऑनलाइन व न्यूज़ पेपर के माध्यम से इसके लिए आवेदन की तिथि की जानकारी देखते रहे।

पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद

पुरुष और महिलाएं जिन्होंने अपना पोस्ट-ग्रेजुएट पूरा कर लिया हैं, उनके पास विशेष रूप से ग्राउंड ड्यूटी के लिए भारतीय वायु सेना में करियर बनाने का अवसर हैं जिसमें एडमिनिस्ट्रेशन ब्रांच, एकाउंट्स ब्रांच, लॉजिस्टिक ब्रांच, एजुकेशन ब्रांच, और मेट्रोलॉजिकल ब्रांच आदि शामिल है।

जरूर पढ़े: IPS Kaise Bane? – आईपीएस बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता, आयु सीमा व परीक्षा की पूरी जानकारी हिंदी में!

Indian Air Force Ki Salary Kitni Hoti Hai

वायु सेना में अधिकारी बनने से पहले ही वेतन मिलना शुरू हो जाता हैं। वायुसेना में अंतिम वर्ष का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे अभ्यार्थियों को 21,000 रूपये मासिक वेतन मिलना शुरू हो जाता है। साथ ही वायुसेना में कार्यरत अधिकारीयों को अन्य कई भत्ते भी प्राप्त होते है। अधिकारियों का मासिक वेतन पैकेज लगभग होगा:

  • फ्लाइंग ब्रांच (Flying branch): 74,264 रु/ महीना
  • टेक्निकल ब्रांच (Technical branch) : Rs. 65,514 रु/ महीना
  • ग्राउंड ड्यूटी ब्रांच (Ground duty branch) : Rs. 63,014 रु/ महीना

Indian Airforce Ke Liye Yogyata (IAF Airman Eligibility Criteria)

आयुसीमा (Age Limit)

अधिकारी के लिए (For Officer) :

ब्राँचआयुसीमा
NDA के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के लिए16 ½ से 19 वर्ष
फ्लाइंग ब्रांच में ग्रेजुएट उम्मीदवारों के लिए19 से 23 वर्ष
टेक्निकल ब्राँच में ग्रेजुएट उम्मीदवारों के लिए18 से 28 वर्ष
ग्राउंड ड्यूटी शाखाओं में ग्रेजुएट उम्मीदवारों के लिए20 से 23 वर्ष
फ्लाइंग ब्रांच में इंजीनियरिंग ग्रेजुएट के लिए19 से 23 वर्ष
टेक्निकल ब्राँच में इंजीनियरिंग स्नातकों (ग्रेजुएट) के लिए18 से 28 वर्ष
ग्राउंड ड्यूटी शाखाओं में इंजीनियरिंग स्नातकों के लिए20 से 25 वर्ष
टेक्निकल ब्राँच में स्नातकोत्तर (पोस्ट-ग्रेजुएट) व्यक्तियों के लिए18 से 28 वर्ष
ग्राउंड ड्यूटी शाखाओं में पोस्ट-ग्रेजुएट उम्मीदवारों के लिए20 से 25 वर्ष

एयरमेन के लिए (For Airmen) :

शैक्षणिक योग्यताआयुसीमा
मैट्रिक या उससे नीचे के उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध पद6-20 वर्ष
इंटरमीडिएट की योग्यता रखने वाले उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध पद16-22 वर्ष
डिप्लोमा धारण वाले उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध पद16-22 वर्ष
ग्रेजुएट उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध पद20-25 वर्ष
पोस्ट-ग्रेजुएट उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध पद20-28 वर्ष

लिंग: पुरुष / महिला (पुरुष व महिला की भर्ती नौकरी के प्रकार पर निर्भर करती है)
राष्ट्रीयता: उम्मीदवार भारतीय होना चाहिए
वैवाहिक अवस्था: उम्मीदवार शादीशुदा नहीं होना चाहिए

जरूर पढ़े: IAS Kaise Bane? (IAS की तैयारी कैसे करे?) – IAS के लिए योग्यता, परीक्षा पैटर्न, सिलेबस!

इंडियन एयरफोर्स भर्ती 2020

जिन अभ्यार्थियों सपना भारतीय वायुसेना में अपना करियर बनाने का है उन्हें इंडियन एयरफोर्स द्वारा निकाली जाने वाली भर्ती (Indian Air force Vacancy 2020) की जानकारी से अपडेट रहना होगा। जानकारी से अपडेट रहने के लिए आप इंडियन एयरफोर्स की आधिकारिक वेबसाइट (official website) indianairforce.nic.in  पर विजिट करते है। यहां आपको इंडियन एयरफोर्स के लिए आवेदन कब शुरू होंगे, एग्जाम डेट, एडमिट कार्ड आदि सभी के बारे में जानकारी मिल जाएँगी।

इंडियन एयरफोर्स भर्ती 2020 सिलेबस

इंडियन एयरफोर्स के लिए तैयारी कर रहे छात्रों से हमारा यही सुझाव है कि वे एग्जाम के सिलेबस के आधार पर ही परीक्षा की तैयारी करे। वायुसेना की परीक्षा में अलग-अलग पद के लिए अलग-अलग परीक्षाएँ देनी होती है। जिसमें अंग्रेजी, गणित, भौतिकी, तर्क व सामान्य जागरूकता आदि से वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते है आप जिस भी पद या परीक्षा की तैयारी कर रहे उसके सिलेबसके आधार पर अपनी तैयारी इससे आपको परीक्षा में किस विषय से कौन से व किस तरह के प्रश्न पूछे जायेंगे यह पता चलेगा तथा आप केवल उन्ही विषयों को पढ़े। इससे आपको तैयारी करने में सहायता मिलेगी।

Conclusion –

प्रत्येक देश में पड़ोसी देशों से जल, थल व आकाश से सुरक्षा के लिए सेना बनाई जाती है। हर देश के लिए सेना होना जरुरी है जो देश को बाहरी आक्रमणों से बचाती है। देश की सेना में होना एक गर्व की बात होती है जो अपनी जान पर 24 घंटे व 12 महीने देश की रक्षा करते है। सेना में होना एक बहुत ही जिम्मेदारी वाला काम होता है जिसके लिए साहस, योग्यता व समझदारी होना बहुत ही आवश्यक है। यदि आप में ये सभी काबिलियत है और आप देश की सेवा करने का जज्बा रखते है तो सेना आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। लेकिन इसके लिए आपको वायुसेना में शामिल होने के लिए ऊपर बताई गयी सभी प्रक्रियाओं को पूरा करना होगा तब जाकर आप भारतीय वायुसेना में शामिल होने के योग्य होंगे।

पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे शेयर करना न भूले ताकि अन्य लोगों की भी मदद हो सके व उन्हें भी इसके बारे में जानकारी प्राप्त हो सके, धन्यवाद!

Author: Sumit Rao

मैं 27 वर्ष का सुमित गोविन्द राव, इलाहबाद विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में Ph.D. हूँ और मैने एक वरिष्ठ कॉलेज प्रोफेसर के रूप में 4 वर्ष से भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली (IIT दिल्ली) में काम किया है। एक Ph.D. और प्रोफेसर होने के नाते, मैने दुनिया भर में शिक्षा, स्वास्थ, तकनीक और अन्य के बारे में लिखने के लिए हिंदी दुनिया वेबसाइट की शुरुआत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *