LLB Kaise Kare
Education

LLB क्या है और LLB Kaise Kare? – परीक्षा, योग्यता, सैलरी।

5/5 - (2 votes)

LLB (Bachelor of Legislative Law) यानि विधायी कानून में स्नातक एक 3 साल की बैचलर डिग्री कोर्स है, जिसे वे स्टूडेंट्स कर सकते है, जिन्होंने किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से न्यूनतम 50% कुल अंकों से अपना ग्रेजुएशन पूरा किया हो। एलएलबी कानून (Law) की पढ़ाई करने और उसके लिए प्रैक्टिस करने के लिए एक डिग्री प्रोग्राम है। यदि आप भी वकील (Advocate) बनना चाहते है तो इस लेख में आपको एलएलबी क्या है और LLB Kaise Kare की पूरी जानकारी (LLB Course Details) मिलेगी।

भारत के सभी लॉ कॉलेजों में पेश किए जाने वाले तीन वर्षीय एलएलबी पाठ्यक्रम को बार काउंसिल ऑफ इंडिया (BCI) द्वारा विनियमित और बारीकी से पर्यवेक्षण किया जाता है। बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लॉ को मुख्य रूप से 6 सेमेस्टर में विभाजित किया जाता है, जिसमें स्टूडेंट्स को संवैधानिक कानून, परिवार कानून, न्यायशास्त्र, आईपीसी (IPC), सीआरपीसी (CRPC), अनुबंध के कानून इत्यादि अन्य विषयों में जाने से पहले कानून की मूल बातें सीखते है।

LLB Kaise Kare

LLB Kya Hai

LLB का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ लॉ होता है जिसे पूरा करने में 3 से 5 साल का वक्त लगता है। यह एक पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री प्रोग्राम है जो कि ग्रेजुएशन पूरा कर लेने के बाद किया जाता है। भारत के कई प्रसिद्ध लॉ कॉलेजों में LLB कोर्स की पेशकश BCI (Bar Council of India) द्वारा निर्धारित अनिवार्य दिशा-निर्देशों के आधार पर की जाती है।

एलएलबी कोर्स को सफलतापूर्वक पूरा कर लेने के बाद, छात्र या तो प्रोफेशनल पक्ष चुन सकते हैं या LLM या PhD in Law जैसे पाठ्यक्रमों के साथ आगे अध्ययन करना भी चुन सकते है। LLB कोर्स के अलावा देश में कई ऐसे टॉप लॉ यूनिवर्सिटीज/ संस्थान है, जो BA LLB, B.Sc LLB, BBA LLB, LLM आदि जैसे विभिन्न पाठ्यक्रम प्रदान करते है।

LLB Full Form In Hindi

एलएलबी (LLB) का Full FormBachelor of Legislative Law‘ है, जिसे हिंदी में ‘विधायी कानून में स्नातक‘ या ‘विधायी कानून का स्नातक‘ कहते है।

llb logo png

LLB Ki Taiyari Kaise Karen के बारे में जानने से पहले आपको ये पता होना चाहिए कि LLB Kaise Kare in Hindi तो आईये बताता हूँ आपको इस बारे में।

यह भी पढ़े: IAS Kaise Bane – आईएएस कैसे बने की पूरी जानकारी।

LLB Course Details In Hindi

निचे आपको टेबल के द्वारा LLB कोर्स की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई है जिसे आप एक नजर में देख सकते है –

LLB फुल फॉर्Bachelor of Legislative Law
कोर्स की अवधि3-5 वर्ष
योग्यताकिसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज से स्नातक (ग्रेजुएशन) की डिग्री होना है।
न्यूनतम प्रतिशत किसी भी विषय से स्नातक डिग्री में 45%-50%
औसत फीस 1-3 लाख रुपये वार्षिक
औसत वेतन 2-7 लाख रुपये वार्षिक

LLB Kaise Kare

अगर आप 12th के बाद LLB कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए आपको 5 वर्ष का समय लगता है जबकि ग्रेजुएशन के बाद LLB करने पर आपको 3 वर्ष का समय लगता है। आप दोनों में से किसी भी रास्ते के द्वारा एलएलबी करना चुन सकते है। 12वीं बाद एलएलबी कैसे करते है इसके बारे में आपको आगे स्टेप बाय स्टेप बताया गया है –

  1. LLB की डिग्री प्राप्त करने के लिए सबसे पहले अपनी 12वीं कक्षा किसी भी विषय से पूरी करें, हालांकि यदि आप अपनी बाहरवीं कक्षा Arts विषय से करते है तो यह आगे आपकी वकील बनने की पढाई में बहुत मददगार साबित होगी।
  2. अब LLB कोर्स के लिए टॉप कॉलेज में प्रवेश पाने के लिए आपको CLAT (कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट) एंट्रेंस एग्जाम देनी होगी, जो कि 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद ही दी जा सकती है।
  3. CLAT एग्जाम पास कर लेने के बाद आपको कॉलेज में एडमिशन मिल जाता है जिसमें आपको 5 वर्ष तक लॉ की पढ़ाई करनी होती है।
  4. एलएलबी की डिग्री हासिल कर लेने के बाद आपको इंटर्नशिप करना होगी, क्योंकि इसी में आप अपने किताबी ज्ञान को प्रेक्टिकली देखते है और एक अच्छा वकील बनने के गुण सीखते है जैसे- किसी पक्ष के लिए दोनों वकील कैसे अपना-अपना पक्ष रखते है और इसके लिए क्या-क्या स्टडी करनी पड़ती है आदि।
  5. इंटर्नशिप पूरी कर लेने के बाद अब आपको State Bar Council में नामांकन (Enroll) करना होगा। और Bar Council Of India (BCI) के द्वारा आयोजित All India Bar Examination को पास करना होगा। यह परीक्षा पास करने के बाद ही आपको प्रैक्टिस का सर्टिफिकेट मिलता है और आपकी LLB की पढ़ाई पूरी होती है।

LLB Ke Liye Qualification 

एलएलबी डिग्री कार्यक्रम में प्रवेश के लिए आपके पास यह एलएलबी पात्रता (LLB Eligibility) होनी चाहिए। आईये एक-एक करके जानते है कि LLB Karne Ke Liye Qualification क्या होती है –

  • 12th के बाद LLB कोर्स की अवधि पांच साल की होती है।
  • यदि आप 12वीं के बाद एलएलबी की पढाई करना चाहते है तो 12वीं में आपके 45% अंक होना चाहिए।
  • या अगर आप ग्रेजुएशन के बाद भी Law या LLB की पढ़ाई करते है जो कि 3 साल का होता है। तो इसके लिए ग्रेजुएशन में आपके कम से कम 45% अंक होना चाहिए।
  • भारत में एलएलबी डिग्री करने के लिए कोई अधिकतम आयु सीमा नहीं है।

इसे पढ़ना न भूले: Collector Kaise Bane – कार्य, सैलरी, योग्यता और एग्जाम पैटर्न इत्यादि

LLB कितने साल का होता है

LLB कोर्स दो तरह के होते है; एक 5 साल का कोर्स है और दूसरा 3 साल का कोर्स है। अगर आप 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद सीधा लॉ की पढाई करना चाहते है तो इसके लिए आपको 5 साल का समय लगेगा।

LLB Ke Baad Kya Kare

एक बार जब आप Law में अपना ग्रेजुएशन पूरा कर लेते है, तो उसके बाद आप मुकदमेबाजी या कॉरपोरेट वकील बनना चुन सकते है, तो दूसरी ओर LLM और Phd करना भी चुन सकते है। इसके अलावा आप चाहे तो Judiciary (न्यायपालिका) की परीक्षा देकर जज बनने के लिए भी आवेदन कर सकते है।

इसके अलावा, मैंने एलएलबी के बाद सबसे लोकप्रिय करियर विकल्पों को विस्तार से सूचीबद्ध किया है जिन्हें आप आगे के लिए चुन सकते है।

  • ऐडवोकेट
  • नोटरी
  • लीगल एडवाइजर
  • सॉलिसिटर
  • साइबर लॉयर
  • लेक्चरर
  • बिज़नेस लॉ
  • कंपनी सक्रेटरी
  • सिविल सर्विस
  • जुडिशियल सर्विस
  • पब्लिक प्रासीक्यूटर

वकील की सैलरी

वकील या एलएलबी स्नातकों का औसत सैलरी 15,000 रूपये से 40,000 रूपये मासिक तक हो सकती है जो अनुभव और प्रमोशन के साथ-साथ बढ़ती जाती है। वकील द्वारा चार्ज की जाने वाली फीस सरकार द्वारा किया गया एक अनुबंध है। हर केस के अनुसार LLB Ki Fees निर्धारित होती है।

Conclusion

यह थी पूरी जानकारी LLB Kaise Kare In Hindi के बारे में, उम्मीद है की इसमें आपको आपके सभी प्रश्नों के जवाब मिलेंगे होंगे। यदि आप भी वकील के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है तो ऊपर दी गयी जानकारी आपके लिए जरूर उपयोगी साबित होगी। अगर इस पोस्ट से जुड़े आपके कोई भी सवाल या सुझाव हो तो आप हमे कमेंट करके बता सकते है हम सही जवाब के साथ आप तक जरूर पहुंचेंगे। एलएलबी कैसे करे से जुडी जानकारी अगर आपको पसंद आयी हो तो इसे Share करना न भूले।

LLB पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

  • LLB Subjects क्या है?

एलएलबी में मुख्य विषय संवैधानिक कानून, बैंकिंग और बीमा कानून, मानवाधिकार कानून, परिवार कानून, निजी अंतरराष्ट्रीय कानून, अंतरराष्ट्रीय आर्थिक कानून, पर्यावरण कानून, चुनाव कानून इत्यादि शामिल है।

  • एक उम्मीदवार को वकील बनने में कितना समय लगता है?

ग्रेजुएशन के बाद, उम्मीदवारों को वकील बनने के लिए 3 साल का समय लगता है जबकि 12वीं के बाद एलएलबी कोर्स पूरा करने में उम्मीदवार को 5 साल का समय लगता है।

  • वकील के दो मुख्य प्रकार कौन से है?

मुख्य दो प्रकार के वकील Attorney और Prosecutor है।

  • एलएलबी का फुल फॉर्म क्या है?

LLB का फुल फॉर्म या पूरा नाम बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लॉ होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
DMCA.com Protection Status