PCS Kya Hai
Education

PCS Ki Taiyari Kaise Kare – PCS ऑफिसर से जुड़ी पूरी जानकारी।

4.3/5 - (31 votes)

PCS का फुल फॉर्म प्रोविंशियल सिविल सर्विस होता है जिसे उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित किया जाता है। यह एक राज्य स्तरीय सिविल सेवा परीक्षा है, जिसके लिए उम्मीदवार को लिखित परीक्षा एवं साक्षात्कार क्लियर करना जरूरी है। अगर आप भी पी सी एस ऑफिसर बनना चाहते हैं तो यहां आपको PCS क्या होता है व PCS Ki Taiyari Kaise Kare की पूरी जानकारी जानने को मिलेगी।

PCS पीसीएस ऑफीसर बनने का सपना कहीं सारे युवाओं का होता है लेकिन यह जो प्रोफाइल दिखने में जितनी आकर्षक लगती है। उससे कही ज्यादा इसमें जिम्मेदारियों और चुनौतियों भरा काम होता है इसके अलावा इस पद तक पहुंचने के लिए आपको तैयारी में भी काफी लंबा सफर तय करना होता है। हालांकि अगर आप सही मार्गदर्शन के साथ पीसीएस की तैयारी करें तो आप इसमें जरूर सफल हो सकते है।

इसलिए इस लेख में हमने भारत में एक PCS ऑफिसर बनने के हर भाग जैसे- पीसीएस क्या है (What Is PCS Exam in Hindi), योग्यता, चयन प्रक्रिया, सिलेबस एवं PCS Ki Taiyari Kaise Karen आदि को कवर किया है।

PCS Kya Hai

PCS Ki Taiyari Kaise Kare

  • जैसा कि PCS एक सिविल सेवा परीक्षा है, इसलिए उम्मीदवारों को इसके उच्च कठिनाई स्तर के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए और पूर्ण निष्ठा के साथ कड़ी मेहनत करने के लिए मानसिक रूप से तैयार होना चाहिए।
  • PCS परीक्षा एक राज्य स्तरीय परीक्षा है, इसलिए आपको देश के बारे में बुनियादी ज्ञान एवं नवीनतम घटनाओं से अपडेट रहना होगा।
  • सिलेबस से हमेशा अपडेट रहें, क्योंकि दोनों प्रीलिम्स और मैन्स का सिलेबस एवं दोनों को पढ़ने की रणनीति अलग-अलग होती है।
  • पिछले वर्ष के पेपर को जरूर हल करें, इससे आपको परीक्षा का पैटर्न और परीक्षा में किस तरह के प्रश्न पूछे जाते है के बारे जानने में मदद मिलेगी।
  • आपको सामयिक घटनाओ या डेली घटनाओ के बारे में पूरी जानकारी रखनी होगी, इसके लिए आपको डेली न्यूज़ पेपर व मंथली करंट अफेयर्स को पढ़ना होगा।

PCS Kya Hai

PCS जिसे प्रोविजनल सिविल सर्विस के नाम से जाना जाता है। भारत देश में आयोजित की जाने वाली एक प्रतिष्ठित सेवा है। पीसीएस परीक्षा का आयोजन राज्य सेवाओं द्वारा हर साल देशभर में विभिन्न रिक्त पदों को भरने के लिए किया जाता है। यह पद राज्य सरकार के द्वारा नियंत्रित किए जाते हैं, जिसमें एक बार विशेष ऑफिसर की भर्ती की जाने के बाद उसे दूसरे राज्य में ट्रांसफर नहीं किया जा सकता है।

एक PCS अधिकारी जिला मजिस्ट्रेट के अधीन SDM के रूप में कार्य करता है। इनकी जिम्मेदारी जिला कलेक्टर के समान ही होती है, परन्तु इनका चयन और रिपोर्टिंग मानदंड जिला कलेक्टर से पूर्णतः अलग होता है।

इसे भी पढ़े: IAS Kaise Bane – आईएएस कैसे बने की पूरी जानकारी।

PCS Full Form In Hindi

पीसीएस (PCS) का Full FormProvincial Civil Service” होता है, जिसका हिंदी में फुल फॉर्म “प्रांतीय सिविल सेवा” होता है।

PCS Ke Liye Qualification In Hindi

हर किसी सरकारी परीक्षा में शामिल होने के उम्मदीवार को सभी जरुरी पात्रताओं को पूरा करना आवश्यक है इसलिए PCS के लिए योग्यता इस प्रकार है –

  • PCS अधिकारी बनने के लिए उम्मीदवारों के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से किसी भी स्ट्रीम में स्नातक (बैचलर) डिग्री या इसके समकक्ष योग्यता होनी चाहिए।
  • उम्मीदवारों की न्यूनतम आयुसीमा 21 वर्ष और अधिकतम आयुसीमा 40 वर्ष होनी चाहिए।
  • कुछ विशिष्ट पदों जैसे- जेल अधीक्षक, जिला कमांडेंट होम गार्ड, और आबकारी निरीक्षक, सहायक वन संरक्षक, रेंज वन अधिकारी, उप पुलिस अधीक्षक आदि के लिए शारीरिक फिटनेस भी मांगी जाती है।
  • उम्मीदवारों को साक्षात्कार (Interview) क्लियर करने के बाद मेडिकल परिक्षण के गुजरना होगा।

PCS Kaise Bane

PCS ऑफिसर बनने के लिए सबसे पहले आपका स्नातक डिग्री या इसके समकक्ष डिग्री को पूरा करना आवश्यक है। इसके बाद राज्य सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली प्रांतीय सिविल सेवा परीक्षा (PCS Exam) के लिए आवेदन करना होगा। यह परीक्षा तीन चरणों प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार में आयोजित की जाती है। तीनो चरणों को पूरा करने के बाद मेरिट लिस्ट जारी की जाती है जिन उम्मीदवारों का नाम मेरिट लिस्ट में होता है उन्हें एसडीएम (SDM), बीडीओ (BDO), डीएसपी (DSP), एआरटीओ (ARTO), जिला अल्पसंख्यक अधिकारी, जिला खाद्य विपणन अधिकारी, असिस्टेंट कमिश्नर व्यापार कर आदि पदों में से किसी एक पर नियुक्ति प्रदान की जाती है।

इस पोस्ट को भी पढ़ना न भूले: Income Tax Officer Kaise Bane – जाने योग्यता, परीक्षा, सैलरी।

PCS के लिए सिलेक्शन प्रोसेस

प्रांतीय सिविल सेवा परीक्षा के लिए सिलेक्शन प्रोसेस तीन चरणों में आयोजित की जाती है, जिन्हे उत्तीर्ण करने बाद ही उम्मीदवार को निर्धारित पदों के लिए नियुक्त किया जाता है।

  • प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  • मुख्य परीक्षा (Mains Exam)
  • साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam) उत्तीर्ण करें।

यह PCS परीक्षा का पहला चरण होता है जिसमें सामान्य अध्ययन के दो अलग-अलग पेपर होते है। इस चरण में 200-200 अंकों के बहुविकल्पीय प्रश्न प्राप्त होते है, जिन्हे हल करने के 2-2 घंटे का समय दिया जाता है।

पेपर का नाम प्रश्नों की संख्या कुल अंक समय
सामान्य अध्ययन पेपर 1: CSAT (Civil Services Aptitude Test) 80 200 2 घंटे
सामान्य अध्ययन पेपर 2 100 200 2 घंटे

PCS Syllabus In Hindi (Prelims)

आगे आपको PCS Ke Liye Subject व सिलेबस के बारे में बताया गया है इससे आपको परीक्षा में किस विषय से प्रश्न पूछे जायेंगे, इस बारे में जानने को मिलेगा।

सामान्य अध्ययन प्रश्न पत्र: 1

  • राष्ट्रीय और अन्तराष्ट्रीय महत्व की समसामयिक घटनाएं
  • प्राचीन भारत
  • मध्यकालीन भारत
  • आधुनिक भारत
  • भारतीय धार्मिक आन्दोलन
  • भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन

भारत और विश्व भूगोल

भारतीय राज व्यवस्था और प्रशासन संविधान

सामान्य अध्ययन प्रश्न पत्र: 2

  • सामान्य तर्कशक्ति अध्ययन
  • कम्युनिकेशन स्किल्स और इंटरपर्सनल स्किल्स
  • तर्कशक्ति और विश्लेषण क्षमता
  • निर्णय क्षमता और समस्या हल
  • सामान्य मानसिक योग्यता
  • कक्षा 10वी स्तर तक की प्रारंभिक गणित, अंक-गणित, बीज-गणित, ज्यामिति और सांख्यिकी
  • कक्षा 10वी स्तर तक की सामान्य अंग्रेजी

मुख्य परीक्षा (Mains Exam) पास करें।

प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को इस परीक्षा में शामिल होना होता है। यह 1500 प्रश्नों की लिखित परीक्षा (Written Exam) है, जिसमें आठ अलग-अलग पेपर होते है।

  • हिंदी – 150 अंक
  • निबंध – 150 अंक
  • सामान्य अध्ययन 1 – 200 अंक
  • सामान्य अध्ययन 2 – 200 अंक
  • सामान्य अध्ययन 3 – 200 अंक
  • सामान्य अध्ययन 4 – 200 अंक
  • वैकल्पिक विषय पेपर 1 – 200 अंक
  • वैकल्पिक विषय पेपर 2 – 200 अंक

अंत में साक्षात्कार (Interview) पास करें।

UPSC परीक्षा की तरह, PCS परीक्षा में भी अंतिम चरण के रूप में साक्षात्कार होता है, जिसमें उम्मीदवार के सामान्य ज्ञान, सोंचने एवं निर्णय लेने की क्षमता को परखा जाता है। मुख्य परीक्षा को उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को साक्षात्कार के लिए के बुलाया जाता है। साक्षात्कार कुल 100 अंकों का होता है जिसमें उम्मीदवार के परफॉरमेंस के आधार पर साक्षात्कारकर्ता द्वारा अंक दिए जाते है।

इंटरव्यू पूरा होने के बाद चयनित किये गए उम्मीदवारों की मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। जिन उम्मीदवारों का नाम मेरिट लिस्ट में होता है, उन्हें फिर ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है। ट्रेनिंग पूरी कर लेने के बाद उम्मीदवार को राज्य के किसी भी जिले में नियुक्ति प्रदान कर दी जाती है।

यह भी है खास: SSC Kya Hai? – SSC Exam की तैयारी से जुड़ी पूरी जानकारी।

PCS Ki Salary

एक PCS अधिकारी का वेतन हर राज्य के लिए भिन्न हो सकता है लेकिन अनुमानतः एक पीसीएस अधिकारी की सैलरी इस प्रकार हो सकती है –

वर्ग PCS ऑफिसर की मासिक सैलरी (इन हैंड)
जूनियर स्केल 38,000 रु/- से 44,000 रु/-
सीनियर स्केल 55,000 रु/- से 60,000 रु/-

निष्कर्ष

PCS ऑफिसर बनने के सफर में पहला पड़ाव होता है उससे जुड़ी जानकारी प्राप्त करना। इसलिए इस लेख में हमने उन सभी अहम पहलुओं के बारे में आपको बताने की पूरी कोशिश की है, ताकि आप अपनी तैयारी अच्छे एवं सही जानकारी के साथ कर सके है। पीसीएस अधिकारी बनने का सफल थोड़ा कठिन और चुनौतियों भरा हो सकता है, हालांकि अगर आप दृढ़ निश्चय के साथ इसकी तैयारी करते है तो आप इसमें जरूर सफल होंगे। हमें पूरी उम्मीद है कि आप पीसीएस अधिकारी बनकर अपने भारत देश के विकास में मदद करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

DMCA.com Protection Status