Rakshabandhan Kyu Manate Hai? – रक्षाबंधन का इतिहास, स्टेटस, कविता हिंदी में!

rakhi-raksha-bandhan-kyu-manate-hai

रक्षाबंधन भाई और बहन के बीच का एक पवित्र और अटूट प्रेम का बंधन होता है, जिसे पूरे भारत भर में धूमधाम से मनाया जाता है। यह त्यौहार हिन्दुधर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक है, जिस दिन बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बांधकर उन्हें आशीर्वाद स्वरूप उनके अच्छे स्वास्थ और लम्बे जीवन की कामना करती है व भाई उपहार सहित बहन को रक्षा करने का वचन देता है। यह त्यौहार हर साल श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। इस वर्ष Raksha Bandhan 2020 3 अगस्त को है। सभी लोग raksha bandhan ka mahatva तो जानते होंगे लेकिन शायद ही किसी को यह पता होगा कि ‘raksha bandhan kyu manaya jata hai’ व रक्षाबंधन बनाने की शुरुआत कब से हुई। इन सभी सवालों के जवाब आज आपको हमारी इस पोस्ट में जानने को मिलेंगे तो पोस्ट शुरू से अंत तक जरूर पढ़े।

Raksha Bandhan In Hindi (रक्षा बंधन क्या है?)

रक्षाबंधन दो शब्दों से मिलकर बना है ‘रक्षा’ जिसका मतलब सुरक्षा व ‘बंधन’ जिसका मतलब होता है एक डोर जो भाई को बहन की रक्षा करने लिए बाध्य करती है। ऐसा नहीं है कि इस दिन केवल सगी बहने ही भाई को रक्षासूत्र बांधती है बल्कि कोई भी लड़की किसी भी लड़के को भाई स्वरूप राखी बांध सकती है जो भाई और बहन के अटूट प्रेम को दर्शाता है। इस त्योहार के दिन पूरा परिवार एक साथ मिलकर राखी, उपहार और मिठाई देकर अपना प्यार साझा करते है।

Rakshabandhan Kyu Manate Hai? (रक्षाबंधन क्यों मनाया जाता है?)

बहुत ही कम लोग होंगे जो ये न जानना चाहते होंगे की रक्षाबंधन का त्यौहार क्यों मानते है? परन्तु राखी के त्यौहार की शुरुआत कब हुई इसके बारे में कोई नहीं जनता। लेकिन हमे सूत्रों से पता चला है की रक्षाबंधन की शुरुआत का वर्णन भविष्य पुराण में मिलता है जिसमें कहा गया है कि जब देव और दानवों बीच युद्ध शुरू हुआ था तब दानव देवताओं पर हावी होते नज़र आने लगे। भगवान इन्द्र वहां से घबरा कर भगवन बृहस्पति के पास गये। वहां बैठी उनकी पत्नी इंद्राणी उनकी सभी बातें सुन रही थी।

उन्होंने एक रेशम का धागा लेकर उसे मन्त्रों की शक्ति से पवित्र करके अपने पति इंद्रदेव की कलाई पर बांध दिया। संयोग से उस दिन श्रावण पूर्णिमा का दिन था। लोगों का ऐसा मत है कि देवराज इंद्रा उस युद्ध में इसी पवित्र धागे की वजह से विजय हुए थे। उसी पूर्णिमा से प्रत्येक वर्ष को श्रावण पूर्णिमा के दिन से राखी बांधने की प्रथा चली आ रही है। कहते है की यह धागा धन, शक्ति, हर्ष और विजय आदि प्राप्त करने में समर्थ है।

Rakshabandhan Ka Tyohar Kab Manaya Jata Hai (रक्षाबंधन का त्यौहार कब मनाया जाता है?)

Rakshabandhan Kab Manaya Jata Hai – रक्षाबंधन का त्यौहार प्रत्येक वर्ष को श्रावण पूर्णिमा के दिन शुभ मुहूर्त के हिसाब से मनाया जाता है।

Raksha Bandhan Kab Hai

पिछले वर्ष 2019 में रक्षाबंधन 15 अगस्त की थी लेकिन इस वर्ष यानि 2020 में रक्षा बंधन 3 अगस्त, 2020 (सोमवार) को है। इस दिन सभी बहने अपने भाइयों को प्रातः 05:49 से शाम 6:01 बजे तक राखी बांध सकती है।

Raksha Bandhan Status

हम सभी जानते है कि आज स्मार्टफोन का जमाना है और सभी अपने-अपने फोन पर व्हाट्सप्प, फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म का उपयोग कर रहे होंगे यदि हाँ तो आप उन पर अपनी स्टेटस भी डालते होंगे। इसलिए इस रक्षाबंधन के त्यौहार पर अपने सभी दोस्तों और रिश्तेदारों को स्टेटस के माध्यम से राखी की सुभकामनाये दें व उनके इन्हे शेयर करे।

तो लीजिये पेश है आप सभी के लिए बेहतरीन एक से बढ़कर एक Raksha Bandhan Status In Hindi व Collection Raksha Bandhan Quotes

ये लम्हा कुछ ख़ास हैं,
बहन के हाथों में भईया का हाथ हैं,
ओ मेरी प्यारी बहना तेरे लिए मेरे पास कुछ ख़ास हैं
तेरे सुकून की खातिर मेरी बहना,
तेरा भाई हमेशा तेरे साथ हैं ….!

कामयाबी तुम्हारे कदम चूमे,
खुशियां तुम्हारे चारो और हो,
पर भगवान से इतनी प्रार्थना करने के लिए
तुम मुझे कुछ तो कमिशन दो..!
मेरे अत्यंत प्यारे (लेकिन कंजूस) भाई
हमेशा की तरह मजाक करते रहो।

सब से अलग हैं भय्या मेरा
सब से प्यारा है भय्या मेरा
कौन कहता हैं जहाँ में खुशियाँ ही सब होती हैं
मेरे लिए तो खुशियों से भी अनमोल हैं भय्या मेरा

है ये कच्चे धागों का बंधन
टूट के भी कभी नहीं टूट पायेगा।

बंधेगी राखियां सुनी कलाई पर
और तिलक माथे पर सज जायेगा।

है ये बंधन एक विश्वास और प्यार का
ज़िन्दगी भर साथ निभाएगा।

चंदन का टीका रेशम का धागा
सावन की सुगंध बारिश की फुहार
भाई की उम्मीद बहना का प्यार
मुबारक हो आपको “रक्षा-बंधन” का त्योहार।

Raksha Bandhan In Hindi Poem (रक्षा बंधन के ऊपर कविता हिंदी में)

हर सावन में आती है राखी,
बहना से मिलवाती है राखी…
चाँद सितारों सी चमकीली,
कलाई को कर जाती राखी…
जो भूले से भी ना भूले,
मनभावन क्षण लाती राखी…
अटूट प्रेम का भाव धागे से
हर घर में बिखराती राखी…
सारे जग की मूल्यवान
चीजों से बढ़कर सबको भाति राखी…
सदा बहन की रक्षा करना,
भाई को यह बतलाती राखी…

Conclusion –

तो दोस्तों कैसी लगी आपको हमारी पोस्ट कमेंट करके जरूर बताये। हमने इस लेख में आपको रक्षाबंधन से सम्बन्धित सभी आवश्यक बातें बताई जिसमें सबसे प्रमुख rakhi kyu manate hai व raksha bandhan kab se manaya jata hai आदि। उम्मीद करते है की आपको आपके सभी सवालों के जवाब यहां पर मिल गए होंगे, यदि फिर भी आपको हमारी लेख में कोई कमी लगी हो या आप हमे अपने कोई सुझाव देना चाहते है तो Commet Box में कमेंट करके बता सकते है। हम उसमें सुधार करने की पूरी कोशिश करेंगे।

पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट और दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे! धन्यवाद..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *