WHO Kya Hai? – विश्व स्वास्थ संगठन के कार्य, स्थापना, इतिहास, थीम, उद्देश्य हिंदी में!

World_Health_Organization_In_Hindi

WHO Kya Hai: WHO यानि विश्व स्वास्थ संगठन एक आधिकारिक समूह है जो वायु गुणवत्ता, पानी की गुणवत्ता और रोग प्रबंधन में सुधार के माध्यम से दुनिया भर में स्वास्थ्य में सुधार पर ध्यान केंद्रित करता है। विश्व स्वास्थ संगठन की स्थापना 1948 में बीमारी और सार्वजनिक स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं से निपटने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के लक्ष्य से किया गया था।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के संस्थापकों ने संयुक्त राष्ट्र के साथ मिलकर एक संगठन की स्थापना की, जो दवाओं के मानकीकरण, बीमारियों की महामारी का प्रबंधन करने और उचित तरीकों के माध्यम से इनसे निपटने के लिए कार्य करता है।

WHO सभी छोटे बड़े इलाकों में जाकर उन लोगों को कई जानलेवा बीमारी से बचने के लिए जागरूक करते है जो इनसे अनभिज्ञ होते है। इसके अलावा यदि कोई बीमारी गंभीर है तो उसके लिए क्या कदम उठाने चाहिए व उससे निपटने के लिए क्या करना होगा, यह सभी जवाबदेही विश्व स्वस्थ संगठन की होती है।

यदि आप भी World Health Organisation In Hindi के बारे में और अधिक जानना चाहते है तो हमारी पोस्ट को शुरू से अंत तक जरूर पढ़े।

Vishwa Swasthya Sangathan Ke Karya कई सारे है जिनमें यह दुनिया के सभी छोटे बड़े देशों में लोगों को स्वास्थ से संबंधित सहायता प्रदान करता है जहां भी इस संगठन की आवश्यकता होती है यह वहां उपलब्ध होता है।

इसके अलावा यह कई सारे अभियान और कार्यक्रम के माध्यम से भी लोगों जागरूक करने का कार्य करता है और ऐसी कई सारी गंभीर बीमारियों को रोकने के लिए अपना महत्वपूर्ण योगदान देता है।

WHO Kya Hai - WORLD HEALTH ORGANISATION

WHO Kya Hai

WHO Full Form In Hindi – विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) है जो संयुक्त राष्ट्र की एक विशेष एजेंसी है जो अंतर्राष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए जिम्मेदार है। यह UN सस्टेनेबल डेवलपमेंट ग्रुप का हिस्सा है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन का मुख्यालय कहां स्थित है – WHO का मुख्यालय स्विट्जरलैंड के जेनेवा शहर, में है, तथा जिसके 6 अर्ध-स्वायत्त क्षेत्रीय कार्यालय और दुनिया भर में 150 क्षेत्रीय कार्यालय है।

WORLD HEALTH DAY

WHO की स्थापना7 अप्रैल 1948 में की गयी थी, तथा जिसकी याद में प्रत्येक वर्ष 7 अप्रैल को “विश्व स्वास्थ्य दिवस” के रूप में मनाया जाता है।

WHO Full Form – World Health Organisation

WHO का कार्य विश्व के विभिन्न देशों को तकनीकी सहायता प्रदान करना, अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य मानकों और दिशानिर्देशों को निर्धारित करना, और विश्व स्वास्थ्य सर्वेक्षण के माध्यम से वैश्विक स्वास्थ्य मुद्दों पर डेटा एकत्र करना है।

जब पूरी दुनिया गंभीर बिमारियों से जूझ रही थी तब डब्ल्यूएचओ ने कई सार्वजनिक स्वास्थ्य उपलब्धियों में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जिनमें मुख्य रूप से चेचक के उन्मूलन, पोलियो के निकट-उन्मूलन, और एक इबोला वैक्सीन के विकास आदि शामिल है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन की सेवाएं दुनिया की सभी जगह पर फैली है। दुनिया का सबसे बड़ा Blood Bank भी WHO के पास ही है।

WHO को अपने महत्वपूर्ण योगदान, कार्यशैली, और नियंत्रण के लिए पूरी दुनिया में आदरपूर्ण भाव से जाना जाता है। जिस कारण विश्व स्वास्थ्य संगठन के 193 सदस्य देश है जिसमें भारत देश भी है। भारत में विश्व स्वास्थ्य संगठन का मुख्यालय भारत की राजधानी दिल्ली में है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अब तक 10 जानलेवा बीमारियों के बारे में पता लगाया है जिनमें कैंसर, टी.बी., सेरिब्रोवेस्क्यूलर डिजीज, पेरिनेटल कंडीशंनस, कारोनरी हार्ट डिजीज, क्रानिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज, एक्यूट लोअर रेस्पायरेटरी इन्फेक्शन, अतिसार, डेसेन्टरी, तथा HIV/AIDS आदि गंभीर बीमारियां शामिल है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना कब हुई

विश्व स्वास्थ्य संगठन के संविधान पर 22 जुलाई 1946 को संयुक्त राष्ट्र के सभी 51 देशों और 10 अन्य देशों द्वारा हस्ताक्षर किए गए थे। विश्व स्वास्थ्य संगठन का संविधान औपचारिक रूप से प्रथम विश्व स्वास्थ्य दिवस 7 अप्रैल 1948 को लागू हुआ, जब इसे 26 वें सदस्य राज्य द्वारा मंजूर किया गया था।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के वर्तमान में महानिदेशक टैड्रोस एडरोनाम गैबरेयेसेस है जिन्होंने डॉ मार्गरेट चेन का स्थान लिया है। यह पांच-पांच वर्षो के दो कार्यकाल यानि 10 वर्षो तक अपनी सेवाएं देने के बाद रिटायर हो रही है।

World Health Organization History

अंतर्राष्ट्रीय संगठन पर 1945 के संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन के दौरान, चीन गणराज्य के प्रतिनिधि, स्ज़ेमिंग सेज़, ने एक अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य संगठन के निर्माण पर नार्वे और ब्राजील के प्रतिनिधियों के समक्ष अपना प्रस्ताव रखा।

हालाँकि वे इस विषय पर प्रस्ताव पारित करवाने में विफल रहे, तथा इसके बाद सम्मेलन के महासचिव, अल्जीरिया हिस ने इस तरह के एक संगठन की स्थापना के लिए एक घोषणा की सिफारिश की। जिसे सन 1946 को संविधान में स्थापित करने की मंजूरी दे दी गयी।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के उद्देश्य

  • यह 150 से अधिक देशों में अपने कार्यालय स्थापित करके लोगों को स्वास्थ संबंधी सहायता मुहैया करवाना है।
  • WHO का उद्देश्य स्वास्थ संबंधी सेवाओं को मजबूत करने और साधन उपलब्ध करवाने में सरकार की मदद करना है।
  • विश्व स्वास्थ संगठन का मुख्य उद्देश्य दुनिया भर के लोगों के लिए बेहतर स्वस्थ भविष्य बनाना है।
  • यह गंभीर बिमारियों जैसे- T.B, HIV, इंफ्लुएंजा, कैंसर और हृदय रोग इत्यादि से सुरक्षित रखने व उनका हल ढूंढने के लिए प्रयास करते है।
  • पोषण, आवास, स्वच्छ्ता आदि कार्यों में सुधार हेतु अपनी महत्वपूर्ण भूमिका देना।
  • स्वास्थ के लिए सभी लोगों को जागरूक करना व उनके के बीच एक सूचित सार्वजनिक राय विकसित करना।
  • वैज्ञानिक और पेशेवर समूहों के बीच स्वास्थ सम्बन्धी सहयोग को बढ़ावा देना है।

विगत 5 वर्षों में विश्व स्वास्थ्य दिवस की थीम

विश्व स्वास्थ्य दिवस को प्रत्येक वर्ष 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा एक थीम के तहत मनाया जाता है घोषित किया गया है।

  • वर्ष 2012: के विश्व स्वास्थ्य दिवस की थीम “अच्छा स्वास्थ्य जीवन में और समय जोड़ देते है” थी।
  • वर्ष 2013: के विश्व स्वास्थ्य दिवस की थीम “स्वस्थ दिल की धड़कन, स्वस्थ रक्तचाप” थी।
  • वर्ष 2014: के विश्व स्वास्थ्य दिवस की थीम “वेक्टरजनित रोग” थी।
  • वर्ष 2015: के विश्व स्वास्थ्य दिवस की थीम “खाद्य सुरक्षा” थी।
  • वर्ष 2016: के विश्व स्वास्थ्य दिवस की थीम “मधुमेह: रोकथाम बढ़ाना, देखभाल को मजबूत करना और निगरानी बढ़ाना” थी।
  • वर्ष 2017: के लिए विश्व स्वास्थ्य दिवस की थीम ” अवसाद: चलो बात करते” थी।
  • वर्ष 2018: विश्व स्वास्थ्य दिवस “यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज: हर कोई, हर जगह” थी।
  • वर्ष 2019: विश्व स्वास्थ्य दिवस “यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज: हर कोई, हर जगह” थी।

Conclusion

दोस्तों World Health Organisation In Hindi में दी गयी जानकारी आपको कैसी कमेंट बॉक्स में Comment करके जरूर बताये उम्मीद करते है कि आपको विश्व स्वास्थ्य संगठन क्या है व विश्व स्वास्थ्य संगठन के इतिहास के बारे में बहुत कुछ जानने को मिला होगा। यदि आपको हमारी आज की पोस्ट WHO In Hindi पसंद आयी हो इसे LIKE और SHARE करना न भूले। ताकि अन्य लोगों को भी इसकी जानकारी प्राप्त हो सके, धन्यवाद!

Author: Sumit Rao

मैं 27 वर्ष का सुमित गोविन्द राव, इलाहबाद विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में Ph.D. हूँ और मैने एक वरिष्ठ कॉलेज प्रोफेसर के रूप में 4 वर्ष से भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली (IIT दिल्ली) में काम किया है। एक Ph.D. और प्रोफेसर होने के नाते, मैने दुनिया भर में शिक्षा, स्वास्थ, तकनीक और अन्य के बारे में लिखने के लिए हिंदी दुनिया वेबसाइट की शुरुआत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *